शहीदों के आंगन की मिट्टी माथे से लगा बोले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह

शहीदों के आंगन की मिट्टी माथे से लगा बोले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह

पड़ोसी देश कुछ न कुछ नापाक हरकतें करता रहता है


देहरादून देश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को उत्तराखंड के देहरादून में सैन्य धाम पर शहीदों के घर के आंगन की मिट्टी को अपने माथे से लगाने के बाद कहा कि पड़ोसी देश कुछ न कुछ नापाक हरकतें करता रहता है। हम दुश्मन को इस पार ही नहीं, उस पार भी जाकर मार सकते हैं। यहां जनसभा को संबोधित करते हुए रक्षामंत्री ने कहा कि पहले अंतरराष्ट्रीय मंच पर भारत की बात को गंभीरता से नहीं लिया जाता था, अब लिया जाता है।

राजनाथ सिंह ने कहा कि नेपाल से हमारे रोटी बेटी के रिश्तें हैं। सांस्कृतिक रिश्तें हैं। उन्होंने कहा कि कुछ ताकतें ऐसी हैं जो इस रश्तिे को खराब करना चाहती है। भले ही हमें शीश झुकाना पड़े, लेकिन अपने पड़ोसी नेपाल से रिश्ते को टूटने नहीं दिया जाएगा। रक्षा मंत्री ने कहा कि तिब्बत से भी हमारे रिश्ते बेहतर रहे हैं। 16 दिसंबर 1971 को हमारे सैनिकों के पराक्रम की वजह से पड़ोसी मुल्क के सैनिकों ने आत्मसमर्पण किया था। भारत अब और मजबूत बन रहा है। अगर हमारे देश की तरफ कोई आंख उठाने की कोशिश करेगा तो हम मुंह तोड़ जवाब देंगे।

राजनाथ सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रक्षा मामले में भी भारत को आत्मनर्भिर बनाने का काम किया। आज हम दुनिया के 72 देशों को सैन्य सामान नर्यिात कर रहे हैं। पहले हम 65 से 70 फीसदी सैन्य सामान दूसरे देशों से आयात करते थे, लेकिन अब स्थिति बदल गयी है और हम सामान एवं उपकरण यहीं बनाते हैं। उन्होंने कहा कि हम देहरादून से नाइट विजन डिवाइस अगले साल तक दुनिया को निर्यात करना शुरू करेंगे। राजनाथ सिंह ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की सराहना करते हुए कहा कि जब पिछली बार मैं आया था तो मैंने कहा था कि धामी धाकड़ बल्लेबाज हैं। अब मैं यह कह सकता हूं कि वह धाकड़ बल्लेबाज होने के साथ ही तेज गेंदबाज भी हैं। 2024 में उत्तराखंड की स्थापना के 25 साल पूरे होंगे। तब ऐसे हालात होने चाहिए कि विकास का जश्न भी हम मना सकें।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट। राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट।
        स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो।     सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को निजी संपत्ति को "सार्वजनिक उद्देश्य" के लिए राज्य के मनमाने अधिग्रहण

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel