पुलिस लाइन में तैनात आरक्षी ने परिवारिक विवाद में किया  आत्महत्या

सुसाइड़ नोट में मृतक पत्नी विवाद होना लिखा,पुलिस जांच में जुटी,

पुलिस लाइन में तैनात आरक्षी ने परिवारिक विवाद में किया  आत्महत्या

ब्यूरो/शत्रुघ्न मणि त्रिपाठी

गोरखपुर/ बुधवार को गोरखपुर पुलिस लाइन के बिगुल रूम में पुलिसकर्मी (बिगुलर )धर्मेंद्र कुमार सिंह ने गले में फांसी का फंदा लगाकर बुधवार को आत्महत्या कर लिया।आत्महत्या की सूचना प्राप्त होते ही पुलिस लाइन में कोहराम मच गया।

मृतक की पत्नी समेत प्रशिक्षु महिला पुलिस कर्मियों के बीच चीख पुकार मच गई। जिसके बाद पुलिस के अन्य अधिकारी और कर्मी भी मौके पर पहुंच गये। एसपी सिटी कृष्ण बिश्नोई ने बताया कि धर्मेंद्र कुमार नाम का यह पुलिसकर्मी अपनी आत्महत्या की वजह सुसाइड नोट में पत्नी से विवाद का होना लिखा है। सुसाइड नोट को पुलिस अपने कब्जे में ले लिया है।

वहीं इस मामले पर एसपी सिटी कृष्ण कुमार बिश्नोई ने कहा है कि सुसाइड नोट के आधार पर जांच पड़ताल की जाएगी। फिलहाल इस घटना से सभी दुखी हैं सिपाही धर्मेंद्र ने सुसाइड नोट में अपनी पत्नी से अक्सर विवाद का हवाला दिया है। बताया जा रहा है कि एक दिन पूर्व भी उसकी पत्नी ने धर्मेंद्र को उसके दोस्त के सामने ही घर के अंदर बेइज्जत किया था। गाली गलौज दी थी। आज सुबह धर्मेंद्र अपने बच्चों को स्कूल छोड़कर आने के बाद पुलिस लाइन में बिगुल रूम पर चला गया। वही कमरे में फंदे से लटककर आत्महत्या कर लिया।

जबकि उसकी पत्नी पर मौजूद थी। मृतक सिपाही पुलिस बैंड में बिगूलर के पद पर तैनात था। वह मूल रूप से बलिया का निवासी था और 2006 बैच का सिपाही था।धर्मेंद्र सिंह की उम्र 40 वर्ष थी जो बलिया जनपद के ग्राम बडसरी, थाना खजूरी का निवासी था। 30 अगस्त 2006 को इसकी भर्ती आरक्षी बिगुलर के पद पर हुई थी। मृतक का एक बेटा दसवीं कक्षा में पड़ता है और बेटी आठवी में पढ़ती है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। तो वहीं इस घटना के बाद मृतक की पत्नी, बच्चे सभी का रो रोकर बुला हाल है।

इस दौरान उन्हें महिला पुलिस कर्मी संभालते सहयोग करते देखी गई। पुलिस लाइन में भी इस घटनाक्रम के बाद माहौल गमगीन हो गया और तरह-तरह की बातें भी होने लगी।

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel