मतदान तिथि नजदीक आते ही पुरजोर कोशिश में लगे प्रत्याशी

मतदान तिथि नजदीक आते ही पुरजोर कोशिश में लगे प्रत्याशी

पलिया कलां खीरी।उत्तर प्रदेश में चल रहे विधानसभा चुनाव के चौथे चरण23फरवरी को होने वाले मतदान की तिथि जैसे जैसे करीब आती जा रही है वैसे वैसे प्रत्याशियों की धड़कने तेज होती जा रही है।प्रत्याशी रात रात भर जागकर हर दूसरे दिन मतदाताओं को रिझाने के लिए कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग करते नजर आ रहे हैं।

पलिया कलां खीरी। उत्तर प्रदेश में चल रहे विधानसभा चुनाव के चौथे चरण23फरवरी को होने वाले मतदान की तिथि जैसे जैसे करीब आती जा रही है वैसे वैसे प्रत्याशियों की धड़कने तेज होती जा रही है।प्रत्याशी रात रात भर जागकर हर दूसरे दिन मतदाताओं को रिझाने के लिए कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग करते नजर आ रहे हैं।

बताते चलें कि137विधानसभा से जहां पिछले10वर्षों से जनता के हमदर्द बने विधायक रहे रोमी साहनी सिख मुस्लिम समुदाय के साथ हिन्दू व आदिवासी समुदाय के बीच अपनी बढ़त बनाये हुए हैं वही दूसरी ओर समाजवादी पार्टी से चुनाव मैदान में नए चेहरे के रूप में उभरे कुक्कू भैया को भी सपा समर्थकों के बीच अपार समर्थन मिल रहा है।वही बसपा से जाकिर हुसैन व कांग्रेस से स्थानीय प्रत्याशी रिसाल अहमद और केजरीवाल सरकार की आम आदमी पार्टी से मैदान में उतरे नए चेहरे व निर्दलीय महिला प्रत्याशी तीसरे चौथे पांचवे और छठे नंबर पर देखे जा रहे हैं।

पलिया कलां खीरी।उत्तर प्रदेश में चल रहे विधानसभा चुनाव के चौथे चरण23फरवरी को होने वाले मतदान की तिथि जैसे जैसे करीब आती जा रही है वैसे वैसे प्रत्याशियों की धड़कने तेज होती जा रही है।प्रत्याशी रात रात भर जागकर हर दूसरे दिन मतदाताओं को रिझाने के लिए कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग करते नजर आ रहे हैं।  बताते चलें कि137विधानसभा से जहां पिछले10वर्षों से जनता के हमदर्द बने विधायक रहे रोमी साहनी सिख मुस्लिम समुदाय के साथ हिन्दू व आदिवासी समुदाय के बीच अपनी बढ़त बनाये हुए हैं वही दूसरी ओर समाजवादी पार्टी से चुनाव मैदान में नए चेहरे के रूप में उभरे कुक्कू भैया को भी सपा समर्थकों के बीच अपार समर्थन मिल रहा है।वही बसपा से जाकिर हुसैन व कांग्रेस से स्थानीय प्रत्याशी रिसाल अहमद और केजरीवाल सरकार की आम आदमी पार्टी से मैदान में उतरे नए चेहरे व निर्दलीय महिला प्रत्याशी तीसरे चौथे पांचवे और छठे नंबर पर देखे जा रहे हैं।  मैदान में उतरे सभी प्रत्याशी जहां कार्यकर्ताओं मतदाताओं को रिझाने के लिए कार्यालयों में सुबह से शाम तक लंगर चलवा रहे हैं वही शहर से लेकर ग्रामीण अंचलों में जाकर डोर टू डोर तरह तरह के प्रलोभन देते हुए मतदाताओं को अपनी ओर आकर्षित करने का पूरा प्रयास कर रहे हैं।

मैदान में उतरे सभी प्रत्याशी जहां कार्यकर्ताओं मतदाताओं को रिझाने के लिए कार्यालयों में सुबह से शाम तक लंगर चलवा रहे हैं वही शहर से लेकर ग्रामीण अंचलों में जाकर डोर टू डोर तरह तरह के प्रलोभन देते हुए मतदाताओं को अपनी ओर आकर्षित करने का पूरा प्रयास कर रहे हैं।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

उप चुनाव: बंगाल में भाजपा की पकड़ कमजोर, हिंदी पट्टी में कांग्रेस की बढ़त,। उप चुनाव: बंगाल में भाजपा की पकड़ कमजोर, हिंदी पट्टी में कांग्रेस की बढ़त,।
स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो।   7 राज्यों- हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, तमिलनाडु, पंजाब, पश्चिम बंगाल और बिहार - की 13 सीटों...

Online Channel

साहित्य ज्योतिष