किसानों के समर्थन में जन अधिकार पार्टी ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

किसानों के समर्थन में जन अधिकार पार्टी ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन

स्वतंत्र प्रभात अम्बेडकर नगर जन अधिकार पार्टी के जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र मौर्य के नेतृत्व में केंद्र व राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों के विरोध में जन अधिकार पार्टी जिला इकाई अंबेडकरनगर ने जिला अधिकारी व उप जिलाधिकारी के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति व महामहिम राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में सरकार द्वारा पारित

 

स्वतंत्र प्रभात
अम्बेडकर नगर

जन अधिकार पार्टी के जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र मौर्य के नेतृत्व में केंद्र व राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों के विरोध में जन अधिकार पार्टी जिला इकाई अंबेडकरनगर ने जिला अधिकारी व उप जिलाधिकारी के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति व महामहिम राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में सरकार द्वारा पारित कृषि कानून, नई शिक्षा नीति व श्रम नीति की खामियों व प्रदेश सरकार की जनविरोधी नीतियों, डीजल पेट्रोल के कीमतों में बढ़ोतरी को तत्काल वापस लेने एवं भाजपा सरकार द्वारा पिछड़े वर्ग का आरक्षण समाप्त किये जाने एवं क्रीमी लेयर व्यवस्था लागू करने, प्रदेश की बिगड़ती हुई कानून व्यवस्था, महंगाई एवं आरक्षण समाप्त किए जाने एवम् क्रीमी लेयर की व्यवस्था लागू किए जाने के विरुद्ध भागीदारी संकल्प मोर्चा के आवाहन पर जन अधिकार पार्टी द्वारा किए जा रहे प्रदर्शन पर सरकार ध्यान नहीं दे रही है।

चारों तरफ पिछड़े, दलितों, अल्पसंख्यकों के ऊपर हर रोज हत्या , लूट ,बलात्कार तथा आगजनी की घटनाएं हो रही हैं। जिसमें तमाम घटनाओं को भागीदारी संकल्प मोर्चा ने सरकार के समक्ष रखा है किंतु ऐसा लगता है कि प्रदेश सरकार का प्रशासन पर नियंत्रण बिल्कुल खत्म हो गया है चारों तरफ त्राहि-त्राहि मचा हुआ है । डीजल पेट्रोल की कीमतें आसमान छू रही है। संविधान एवं विधि द्वारा प्रदत्त आरक्षण व्यवस्था तार-तार हो रहा है मेडिकल प्रवेश में आरक्षण समाप्त कर दिया गया है पिछड़े वर्ग के छात्रों की छात्रवृत्ति खत्म कर दी गई है। किसानों को बधुआ मजदूर बनाया जा रहा है किंतु सरकार कुछ भी सुनने, समझने ,मानने और अवांछित तथ्यों के खिलाफ कार्रवाई करने को तैयार नहीं है।

इस सम्बन्ध में जन अधिकार पार्टी एवं भागीदारी संकल्प मोर्चा द्वारा पिछले 1 से 7 जून तक लगातार धरना प्रदर्शन भी किया गया। उसके बाद भी लगातार प्रत्येक सोमवार को प्रदर्शन किया जा रहा है। परंतु ज्ञापन का 29 वां सोमवार और प्रत्येक सोमवार को महामहिम को ज्ञापन भी भेजा जा रहा है। किन्तु शासन /प्रशासन द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है एक स्वस्थ लोक तंत्र में जनता की आवाज की इस प्रकार की अनदेखी की जा रही है। नई कृषि नीति, नई शिक्षा नीति को समाप्त करने, डीजल पेट्रोल के दामों में वृद्धि को रोकने ,क्रीमी लेयर की व्यवस्था को समाप्त करने, प्रवासी मजदूरों को ₹15000 एकमुश्त देने और साथ में ₹7500 प्रति माह 1 वर्ष तक देने ,किसानों के गन्ना मूल का बकाया भुगतान करने, किसानों की उनकी उपज का समर्थन मूल्य दिलाने, कीटनाशक ,दवाएं ,खाद उचित मूल्य पर उपलब्ध कराने, बिजली के बिल माफ करने, छोटे मझोले किसानों व व्यापारियों के ऋण को माफ करने, पिछड़े वर्ग के छात्रों को भी छात्रवृत्ति प्रदान करने,

बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराने, प्रदेश में चारों तरफ लूट, हत्या, बलात्कार की घटनाओं को तत्काल रोकने, श्री राम एयरपोर्ट के नाम पर किसानों की जमीन को जबरदस्ती अधिग्रहित करने , आदि के विरोध में जन अधिकार पार्टी ने ज्ञापन सौंपा। इस प्रकार मंडल सचिव अयोध्या विनय मौर्य,जिला अध्यक्ष धर्मेंद्र मौर्य,जिला प्रभारी राम प्रकाश चौहान, जिला संयोजक सुधीर मौर्य,जिला सलाहकार हरिगोपाल मौर्य,जिला सचिव गुलाम मोहम्मद, जिला महासचिव सुनील मौर्य,जिला उपाध्यक्ष अमित कुमार मौर्य, जगदंबा मौर्य, युवा जिला अध्यक्ष इंजीनियर अजीत मौर्य,जिला कोषाध्यक्ष राहुल मौर्य के साथ अकबरपुर विधानसभा अध्यक्ष प्रमोद मौर्य,विधानसभा अध्यक्ष आलापुर रमेश मौर्य, विधानसभा अध्यक्ष जलालपुर जगराम मौर्य,विधानसभा अध्यक्ष कटेहरी अनिल मौर्य,विधानसभा अध्यक्ष टांडा ज्ञानचंद मौर्य के साथ संगठन मंत्री आलापुर राजेंद्र प्रसाद मौर्य शामिल रहे।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट। राज्य उचित प्रक्रिया के बिना संपत्ति का अधिग्रहण नहीं कर सकता ।संपत्ति का अधिकार एक संवैधानिक अधिकार है। -सुप्रीम कोर्ट।
        स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो।     सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को निजी संपत्ति को "सार्वजनिक उद्देश्य" के लिए राज्य के मनमाने अधिग्रहण

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel