सुल्तानपुर : शहर के सट्टा कारोबार व नशे के सौदागरों पर कब होगी कार्यवाही

सुलतानपुर सट्टा कारोबारियों पर कब होगी नजर शनिवार को शुरू हो रहे दुबई में आईपीएल को लेकर शहर में सट्टे का बाजार गर्म हो गया है । शहर के कई इलाको में सैकड़ों की संख्या में युवा सट्टा बाजार में लिप्त हो गए हैं । सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बीते कई महीनों से

सुलतानपुर

सट्टा कारोबारियों पर कब होगी नजर

शनिवार को शुरू हो रहे दुबई में आईपीएल को लेकर शहर में सट्टे का बाजार गर्म हो गया है । शहर के कई इलाको में सैकड़ों की संख्या में युवा सट्टा बाजार में लिप्त हो गए हैं । सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बीते कई महीनों से शहर की कुछ चिन्हित खास जगहों पर ऑनलाइन लॉटरी व सट्टा बाजार का गोरखधंधा धड़ल्ले से चल रहा है । बीते वर्षों में पुलिस द्वारा कुछ जगहों पर कार्यवाही भी की गई किंतु समय के साथ साथ सट्टा चलाने वालों के बड़े गिरोह ने धीरे-धीरे शहर में सट्टेबाजी की जड़े जमा ली है । शहर के कई इलाकों में धड़ल्ले से सट्टा बाजार जारी है । विश्वस्त सूत्र बताते हैं आईपीएल में सट्टे को लेकर युवाओं में खासा जोश है पहले मैच से ही लाखों करोड़ों का वारा न्यारा होने की उम्मीद है । शहर का पांचो पीरन , खैराबाद , अन्नू चौराहा , बाटा गली , रूहट्टा गली , राहुल चौराहा बधैया वीर , विवेक नगर , करौंदिया , ओम नगर , पयागीपुर ऐसे इलाके हैं जहां गोपनीय रूप से सट्टेबाज आपस में जुड़ कर सट्टा बाजार चला रहे हैं । सूत्र यह भी बताते हैं सट्टे की जड़ें बहुत गहरी हैं और देश के कोने कोने से लोग इसमें आन लाइन जुड़े हुए हैं सूत्र इसमें पुलिस की जानकारी होने से भी इनकार नहीं कर रहे हैं । जहां एक तरफ करौंदिया , निराला नगर , शहर से सट्टा गोमती नगर , गोलाघाट , आदर्श नगर , एमएसबी स्कूल के पीछे , मेजरगंज , नेशनल सिनेमा रोड , आजाद नगर दरियापुर रेलवे लाइन , लोको कॉलोनी की वाशिंग लाइन , हथियानाला , शमशान घाट ऐसे इलाके हैं जहां सट्टे के साथ-साथ नशे का भी बड़ा कारोबार तस्करों द्वारा चलाया जाता रहा है । कोतवाली पुलिस द्वारा गाहे-बगाहे इन तस्करों पर कार्यवाही कर नशा मुक्त शहर की परिकल्पना को आगे बढ़ाते दिख जाती है । बीते वर्षों में निराला नगर चौकी इंचार्ज रहे यादवेंद्र सोनकर , एनबी सिंह , दिनेश राय ने नशे के कारोबारियों के खिलाफ कार्यवाही की वही शाहगंज चौकी इंचार्ज प्रभाकांत तिवारी के नेतृत्व में आजाद नगर स्थित स्मैक कारोबार पर बड़ी कार्यवाही कर आरोपियों को जेल भेजा गया था । धंमौर थाना अध्यक्ष ने तस्कर को दस लाख की स्मैक के साथ हिरासत में लेकर बड़ी सफलता प्राप्त की है । इसी के साथ शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्रो में पैर पसार रहे ड्रग्स के नशे के व्यापार की पुष्टि हो गयी । पुलिस द्वारा इन कार्यवाहियो के बावजूद नशे का व्यापार पूरी तरीके से शहर में समाप्त नहीं हुआ । अच्छे-अच्छे घरों के युवा लगातार नशे की चपेट में आकर अपना भविष्य बर्बाद कर रहे हैं । सामाजिक संगठन भी कमोवेश नशे और सट्टा बाजार को लेकर कोई बड़ी मुहिम चलाने में अभी तक कामयाब नहीं हुए । नशे व सट्टे का बाजार निश्चित ही शहर की युवा आबादी को अपना भविष्य बर्बाद करने में बड़ी भूमिका निभा रहा है । देखना यह है वर्तमान कप्तान शिव हरी मीणा के नेतृत्व में जिले के अफसरों द्वारा नशे और सट्टे के बाजार को समाप्त करने के लिए क्या कदम उठाए जाते हैं । किस प्रकार गोपनीय रूप से शहर में चल रहे सट्टा व नशे के कारोबार की पड़ताल की जाती है । एसपी के मातहत अफसर अपने गोपनीय सूत्रों की सूचनाओं की तस्दीक किस प्रकार करते है उन्हें इस मुहिम में कितनी सफलता मिलती है ।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

अंतर्राष्ट्रीय

Online Channel