ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शन का समर्थन करने पर सेलिब्रिटी शेफ की पीट-पीट कर दी गई हत्या

ईरान में हिजाब विरोधी प्रदर्शन का समर्थन करने पर सेलिब्रिटी शेफ की पीट-पीट कर दी गई हत्या

स्वतंत्र प्रभात 

ईरान में जारी हिजाब विरोधी प्रदर्शन के दौरान  एक सेलिब्रिटी शेफ की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई । सेलिब्रिटी शेफ महर्शाद शाहिदी, जो ईरान के जेमी ओलिवर के नाम से मशहूर थे को रिवोल्यूशनरी गार्ड बलों ने कथित तौर पर पीट-पीट कर मार डाला। महर्शाद शाहिदी की मौत उनके 20वें जन्मदिन से ठीक एक दिन पहले हुई है।   शनिवार को उनके अंतिम संस्कार के दौरान हजारों लोग सड़कों पर उतर आए।

द टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक 19 साल के शेफ को अराक शहर में विरोध प्रदर्शन के दौरान गिरफ्तार किया गया था। यहां, ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड ने हिरासत में डंडों से पीट-पीट कर उन्हें मार डाला था। उनके सिर पर डंडों से तब तक मारा गया, जब तक वह मर नहीं गए। वहीं शाहिदी के परिवार ने कहा कि उन पर मौत की वजह हार्ट अटैक बताने का दबाव डाला जा रहा है। दूसरी ओर ईरानी अधिकारियों ने शेफ के मौत की जिम्मेदारी से इनकार कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ईरान के मुख्य न्यायाधीश अब्दोलमेहदी मौसवी ने यहां तक कहा कि शेफ के हाथ, पैर या खोपड़ी में फ्रैक्चर या चोट के कोई संकेत नहीं थे। सोशल मीडिया पर कई यूजर्स ने उनकी मौत के लिए ईरानी अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराया। ईरानी अमेरिकी लेखक डा. नीना अंसारी ने लिखा, 'वह बूटे रेस्टोरेंट के एक प्रभावशाली शेफ थे। ईरान में सुरक्षा बलों द्वारा उन्हें बेरहमी से पीटा गया था। कल उनका 20वां जन्मदिन होता। हम कभी नहीं भूलेंगे। हम कभी माफ नहीं करेंगे'। 

बता दें कि ईरान में 22 साल की महसा अमीनी की नैतिकता पुलिस की पिटाई से मौत हो गई थी। उन्हें गलत तरीके से हिजाब पहनने के कारण मारा गया था। इस घटना के बाद से ही ईरान में प्रदर्शन देखने को मिल रहा है। तब से लेकर अब तक सैकड़ों लोगों की मौत हो चुकी है। इस प्रदर्शन को ईरान अमेरिका की साजिश के रूप में देख रहा है। ईरान के खिलाफ दुनिया भर में प्रदर्शन देखने को मिला है।

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel