प्रधानमंत्री मोदी ने पुतिन को पढ़ाया था शांति का पाठ, फ्रांस के राष्ट्रपति ने की PM मोदी की तारीफ

प्रधानमंत्री मोदी ने पुतिन को पढ़ाया था शांति का पाठ, फ्रांस के राष्ट्रपति ने की PM मोदी की तारीफ

प्रधानमंत्री मोदी ने पुतिन को पढ़ाया था शांति का पाठ, फ्रांस के राष्ट्रपति ने की PM मोदी की तारीफ


स्वतंत्र प्रभात 

संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में फ्रांस के राष्ट्रपति ने शंघाई सहयोग संगठन में पीएम मोदी की कही हुई बातों का समर्थन किया है. फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनएल मैक्रां ने कहा कि भारतीय पीएम मोदी सही थे जब उन्होंने कहा कि समय युद्ध का नहीं, पश्चिम से बदला लेने का या पूर्व के खिलाफ पश्चिम का विरोध करने का नहीं है. यह हमारे समान संप्रभुता वाले राज्यों के लिए हमारे सामने आने वाली चुनौतियों का सामना करने का समय है. उज्बेकिस्तान में आयोजित एससीओ सम्मेलन में पीएम मोदी ने रूस यूक्रेन युद्ध को लेकर कहा था कि आज का समय युद्ध का नहीं है. शांति के रास्ते तलाशना जरूरी है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा-मैं यूक्रेन में संघर्ष पर आपकी स्थिति और आपकी चिंताओं के बारे में भी जानता हूं. हम चाहते हैं कि यह सब जल्द से जल्द खत्म हो. हम आपको वहां क्या हो रहा है, इसकी जानकारी रखेंगे. वहीं पीएम मोदी से रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने कहा था कि मैं यूक्रेन में संघर्ष पर आपका रुख जानता हूं. मैं आपकी चिंताओं से अवगत हूं, जिनके बारे में आप बार-बार बात बताते रहते हैं. हम इसे जल्द से जल्द रोकने के लिए हरसंभव कोशिश कर रहे हैं. बता दें कि इसके बाद अमेरिकी सरकार और मीडिया ने पीएम मोदी की जमकर सराहना की थी. 
अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा था कि भारत और चीन के नेताओं द्वारा यूक्रेन युद्ध को लेकर रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के सामने अपनी चिंताएं व्यक्त करना यह दर्शाता है कि विश्व इस आक्रमण को लेकर फिक्रमंद है. एससीओ सम्मेलन में पीएम मोदी ने कहा था कि भारत और रूस मिलकर काम कर रहे हैं. उन्होंने रूस और यूक्रेन दोनों का आभार जताते हुए कहा कि दोनों ही देशों के सहयोग के कारण हम हमारे देश के यूक्रेन में फंसे स्टूडेंट्स को बाहर निकाल पाए. इसके लिए दोनों देशों का आभारी हूं.

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel