लछीवाला पर टोल टैक्स बैरियर बनाये जाने के विरोध में सवाल उठाये उत्तराखंड क्रांति दल ने

लछीवाला पर टोल टैक्स बैरियर बनाये जाने के विरोध में सवाल उठाये उत्तराखंड क्रांति दल ने

लछीवाला पर टोल टैक्स बैरियर बनाये जाने के विरोध में सवाल उठाये उत्तराखंड क्रांति दल ने देहरादून| लच्छीवाला डोईवाला विधानसभा क्षेत्र जो कि जिला देहरादून में स्थित है, वहाँ पर टोल प्लाजा बनाये जाने पर उक्रांद ने जताया विरोध! दिनाँक 27/10/2020उत्तराखंड क्रांति दल का ऐलान किया कि यदि लच्छीवाला टोल टैक्स बैरियर नहीं हटाया गया

लछीवाला पर टोल टैक्स बैरियर बनाये जाने के विरोध में सवाल उठाये उत्तराखंड क्रांति दल ने

देहरादून| लच्छीवाला डोईवाला विधानसभा क्षेत्र जो कि जिला देहरादून में स्थित है, वहाँ पर टोल प्लाजा बनाये जाने पर उक्रांद ने जताया विरोध! दिनाँक 27/10/2020
उत्तराखंड क्रांति दल का ऐलान किया कि यदि लच्छीवाला टोल टैक्स बैरियर नहीं हटाया गया तो उत्तराखंड क्रांति दल इसके विरोध में सड़कों पर उतरेगाI

देहरादून के केंद्रीय कार्यालय में एक प्रेस वार्ता के माध्यम से देहरादून कि देहरादून के लछीवाला में जिस स्थान पर टोल टैक्स का बैरियर बनाया जा रहा है, वह बैरियर नेशनल हाईवे पर होना चाहिए, लेकिन देहरादून शहर के बीच में ही बना दिया है, जिससे कि स्थानीय निवासियों के लिये दिक्कत हो गयी है!लछीवाला टोल टैक्स बैरियर के विरोध में उतरेगा उत्तराखंड क्रांति दल अगर बैरियर को शिफ्ट नही किया गया!

उत्तराखंड क्रांति दल ने आज ऐलान किया कि यदि लच्छीवाला टोल टैक्स बैरियर नहीं हटाया गया तो उत्तराखंड क्रांति दल इसके विरोध में सड़कों पर उतरेगा!देहरादून के केंद्रीय कार्यालय में एक प्रेस वार्ता के माध्यम से देहरादून के कें में कहा कि देहरादून लच्छीवाला में जिस स्थान पर टोल टैक्स का बैरियर बनाया जा रहा है वहां से जनता के साथ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को भी विधानसभा में जाने के लिए टोल टैक्स देना पड़ेगा।गौरतलब है कि डोईवाला और लच्छीवाला आदि क्षेत्रों से ही तमाम लोग दिन में दो बार देहरादून में विभिन्न तरह के रोजगार और सरकारी नौकरियां करने के लिए आते हैंI जहां पर बैरियर लग जाने से जनता को बेहद नुकसान होगा।

प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए उत्तराखंड क्रांति दल युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष राजेंद्र सिंह बिष्ट ने कहा कि टोल टैक्स तो बाहरी राज्यों से उत्तराखंड में आने वाले लोगों से लिया जाना चाहिए। इसके लिए ज्यादा बेहतर होता कि टोल टैक्स बैरियर भानियावाला तिराहे के बाद दिल्ली वाले रास्ते पर लगाया जाता लेकिन लछीवाला के बाद यह टोल टैक्स लगाए जाने से जनता को खासा नुकसान होगा।बैरियर न हटाए जाने पर राजेंद्र सिंह बिष्ट ने कहा कि यदि जनता को परेशानी हुई तो वे सड़कों पर उतर कर इसके खिलाफ आंदोलन करेंगे एक और महत्वपूर्ण तथ्य यह हैं!

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

उप चुनाव: बंगाल में भाजपा की पकड़ कमजोर, हिंदी पट्टी में कांग्रेस की बढ़त,। उप चुनाव: बंगाल में भाजपा की पकड़ कमजोर, हिंदी पट्टी में कांग्रेस की बढ़त,।
स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो।   7 राज्यों- हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, तमिलनाडु, पंजाब, पश्चिम बंगाल और बिहार - की 13 सीटों...

Online Channel

साहित्य ज्योतिष