इंसानों के साथ -साथ कोविड-19 की मार पशु-पक्षियों पर भी है , हावी ।

इंसानों के साथ -साथ कोविड-19 की मार पशु-पक्षियों पर भी है , हावी ।

किसी का “दर्द” ले सकें तो ले “उधार”

प्रदीप दुबे (रिपोर्टर )

औराई भदोही।

उत्तर प्रदेश के भदोही जनपद मे औराई थाना क्षेत्र के यूनियन बैंक के पास निवास कर रहे सैकड़ों बेजुबान बंदरों के लिए बाजार से रोजाना कुछ न कुछ खरीद कर ला रहे भवानीपुर गांव निवासी समाजसेवी संदीप शुक्ला। बताते चलें कि औराई में चौराहे से लेकर यूनियन बैंक के आस-पास सैकड़ों की संख्या में बंदर निवास करते हैं।

औराई थाना क्षेत्र के भवानीपुर गांव निवासी समाजसेवी संदीप शुक्ला रोजाना इन भुखे बंदरों का खयाल रख रहे हैं। लॉक डाउन के चलते भूख से परेशान गरीब व्यक्ति असहाय लोगों को तो क्षेत्र के समाजसेवीयों व औराई पुलिस द्वारा राहत सामग्री व भोजन पैकेट प्राप्त कराया ज रहा है। लेकिन ये बेजुबान बंदर अपनी पीड़ा किससे कहें।

इसी दर्द को समझते हुए संदीप शुक्ला रोजाना इन बंदरों के लिए बाजार से फल व चना यथा शक्ति ला कर उनका पेट भरने का तीन महिनों से काम कर रहे है। जबकी लाकडाउन होने के कारण बाजार की सभी दुकानें बंद थी जीसमें संदीप शुक्ला अपनी परवाह न करते हुए इन बेजुबानों बंदरों की सेवा करने में लगे रहे ।

मात्र संदीप शुक्ला के एक आवाज लगाने पर दौड़ पड़ते हैं सभी बेजुबान बंदर ।लाकडाउन के कारण इन बेजुबानों के सामने समस्या आ गई थी । इसी कड़ी में आज सोमवार को समाजसेवी संदीप शुक्ला द्वारा चना व फल इन भुखे बेजुबान बंदरों को खिलाया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here