अयोध्या रामनगरी में हुई नागा साधु की हत्या की बिसात

जमीनी विवाद पर बिछी थी हत्या की बिसात

जमीनी विवाद पर बिछी थी हत्या की बिसात

पुलिस ने मुख्य अभियुक्त शशिकांत दास समेत एक अन्य को किया गिरफ्तार,

पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त ईंट व एक अदद कार किया बरामद

अयोध्या
रामनगरी में हुई नागा साधु की हत्या की बिसात जमीन व पैसे की लेन-देन पर पहले ही बिछाई जा चुकी थी, बस अंजाम बीते 3/4 अप्रैल की रात में दे दिया गया।
उक्त घटना का खुलासा करते हुये एसएसपी शैलेश पांडेय ने बताया कि महंत कन्हैया दास की हत्या करने वाले मुख्य अभियुक्त शशिकांत दास उर्फ गोलू समेत एक अन्य को गिरफ्तार कर लिया गया है, जबकि अन्य अभियुक्तों की तलाश की जा रही है। उन्होंने बताया अभियुक्त की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त दो ईंट व एक अदद इनोवा कार नं. यूपी 32 ईएच 9100 बरामद कर लिया गया है। महंत कन्हैया दास की हत्या को लेकर दर्ज मुकदमें की छानबीन कर रही पुलिस ने मुखबिर की सूचना अभियुक्त शशिकांत दास उर्फ गोलू चेला स्व. रामबरन दास को मोहबरा चौराहे के पास से तो वहीं अंश मिश्रा उर्फ भोला पुत्र संजय कुमार मिश्रा को रामप्रस्थ होटल के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। एसएसपी शैलेश पांडेय के अनुसार पूछताछ के दौरान गिरफ्तार किये गये अभियुक्तों ने बताया कि मृतक महन्त कन्हैया दास व अभियुक्त गोलू उर्फ शशिकान्त दास जो एक ही गुरू के शिष्य हैं, के बीच जमीन व पैसे की बंटवारे को लेकर विवाद था। जिसका मामला न्यायालय में भी चल रहा है।
इसी कारण पूरी सम्पत्ति व पैसे पर पूर्ण आधिपत्य के लिए दोनों अभियुक्तगण महन्त कन्हैया दास की हत्या की षडयन्त्र अपने अन्य 5 साथियों के साथ बीती शिवरात्रि पर्व से ही शुरूआत कर दिये थे, जिसमें इन अभियुक्तगण द्वारा महन्त को मारने की कई बार कोशिश में रहे किन्तु उचित अवसर नहीं मिल पाया था। घटना की रात उपरोक्त अभियुक्तगण जिसमें से गोलू उर्फ शशिकान्त दास अपने तीन अन्य साथियों के साथ महन्थ की हत्या के लिए गौशाला के अन्दर जाकर हत्या कर दिये थे व अभियुक्त अंश मिश्रा व घटना के षडंयन्त्र में शामिल दो अन्य लोग घटनास्थल के पास सड़क पर इनोवा गाड़ी जो घटना में शामिल एक षडयन्त्रकारी अभियुक्त की है , इनोवा गाड़ी से आने जाने वाले लोगों पे नजर रखे हुए थे।
घटना के बाद सारे अभियुक्तगण अपने अपने स्थान पर छिप गये थे, जिसमें आज दो अभियुक्तगण उपरोक्त की गिरफ्तारी हुई, जो भाई हैं । यह हत्या उक्त दोनों अभियुक्तगण द्वारा अन्य अभियुक्तगण को पैसे व जमीन का लालच देकर सम्मिलित किया गया था। शेष अभियुक्तों की तलाश में पुलिस टीम जुटी हुई है।  उन्होंने बताया कि गिरफ्तार किये गये अभियुक्तों के विरुद्ध विधिक कार्रवाई की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here