स्कूल मैनेजर के आगे पालिका प्रशासन ने टेके घुटने

स्कूल-मैनेजर-के-आगे-पालिका-प्रशासन-ने-टेके-घुटने

स्वतंत्र प्रभात

शाहाबाद, हरदोई। हर बार की तरह इस बार भी पालिका प्रशासन ने एक दबंग स्कूल मैनेजर के आगे घुटने टेक दिए । और वापस लौट चला। निर्माण कार्य में बाधा पैदा होने के बाद पालिका प्रशासन ने उस काम को छोड़ देना ही मुनासिब समझा। कभी भी उस काम को आगे करने की नहीं सोची। पालिका प्रशासन को इस बात से भी मतलब नहीं रहा कि उसके नागरिकों के सामने इस रुके हुए निर्माण कार्य से कितनी दुश्वारियां पैदा होगी? पालिका की ओर से पानी निकास के लिए मलिकापुर रोड पर लगभग डेढ़ सौ मीटर नाला निर्माण कार्य किया जा रहा था।

नालंदा शिक्षण संस्थान के प्रबंध तंत्र ने गेट के आगे दो पिलर खड़े करके न केवल अपनी दबंगई दिखाई। बल्कि पालिका प्रशासन को आगे नाला निर्माण का कार्य न करने की धमकी भी दी। बस फिर क्या था गीदड़ धमकियों से हमेशा सहमें रहने वाला पालिका प्रशासन बैकफुट पर आ गया। और वहीं से नाला निर्माण का कार्य छोड़ कर वापस हो गया। बरसात के चलते इस अधूरे नाले का पानी सड़कों पर बह रहा है।

जिससे जल्दी ही 9 लाख रुपए की लागत से बनी सड़क टूट रही है । आने जाने वाले राहगीरों को काफी दिक्कतें हो रही हैं। सबसे ज्यादा दुश्वारियां तो मलिकापुर निवासियों के सामने खड़ी हैं। लेकिन पालिका प्रशासन टस से मस नहीं हो रहा है। इससे पूर्व भी भी स्कूल मैनेजर ने अपनी दबंगई का प्रदर्शन करते हुए सड़क पर पिलर खड़े करने की कोशिश की थी। लेकिन मलिकापुर निवासियों ने वह सभी पिलर तोड़ दिए थे।