बच्चों को भाषा और गणित की बुनियादी शिक्षा में दक्षता प्राप्त करने के लिए सतत प्रयास किया जा रहा है – अतुल कुमार सिंह

बच्चों को भाषा और गणित की बुनियादी शिक्षा में दक्षता प्राप्त करने के लिए सतत प्रयास किया जा रहा है – अतुल कुमार सिंह


स्वतंत्र प्रभात
भीटी अंबेडकरनगर।आधारशिला क्रियान्वयन संदर्शिट, एवं समृद्ध हस्त पुस्तिका पर आधारित दो दिवसीय शिक्षक, शिक्षिका, शिक्षामित्र प्रशिक्षण शिविर के प्रथम बैच का शुभारंभ ब्लॉक संसाधन केंद्र कटेहरी गुरुवार को हुआ।जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अंबेडकरनगर अतुल कुमार सिंह ने विधि-विधान पूर्वक उक्त प्रशिक्षण का शुभारंभ किया।उक्त अवसर पर खंड शिक्षा अधिकारी कटेहरी रामचंद्र मौर्य ए आर पी के आर पी के द्वारा जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी का स्वागत अभिनंदन किया गया।

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अतुल कुमार सिंह ने कहा कि मिशन प्रेरणा के अंतर्गत आधारशिला, ध्यानाकर्षण, शिक्षण संग्रह माड्यूल, सहज पुस्तिका समृद्ध माड्यूल का सभी शिक्षक अध्ययन करें और अपने शिक्षण में उसका अनुपालन सुनिश्चित करें। खंड शिक्षा अधिकारी कटेहरी रामचंद्र मौर्य ने मिशन प्रेरणा के सभी घटक प्रेरणा लक्ष्य, प्रेरणा सूची, प्रेरणा तालिका वा क्रियान्वयन संदर्शिका समृद्ध माड्यूल के साथ ज्ञानोत्सव कैंपेन के तहत शिक्षा चौपाल में अभिभावकों की भी समय सहायता कराने का निर्देश दिया। खंड शिक्षा अधिकारी रामचंद्र मौर्य ने बताया कि शिक्षक शिक्षिकाओं व शिक्षामित्रों को ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

बच्चों को भाषा और गणित की बुनियादी शिक्षा में दक्षता प्राप्त करने के लिए सतत प्रयास पर जोर दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कहानी चार्ट एवं रचनात्मक गतिविधियों के द्वारा शिक्षण और शिक्षण विधि का प्रयोग कैसे किया जाए यह बहुत महत्वपूर्ण है। शैक्षिक वातावरण को रुचकर बनाने के लिए उपलब्ध सामग्री पर चर्चा के साथ ही कक्षा कक्षों को कैसे रुचिकर और आकर्षक बनाया जाए इसका टिप्स भी खंड शिक्षा अधिकारी रामचंद्र मौर्य ने दिया।

एआरपी मनीष कुमार ने प्रत्येक कक्षा के अंतिम विद्यार्थी को प्रेरणा लक्ष्य की संप्राप्ति पर चर्चा की।एआरपी सामाजिक विषय डॉक्टर अशर्फीलाल ने तीनों हस्त पुस्तिका पर चर्चा की।एआरपी बृजेश कुमार यादव ने गणित किट की समझ और उसके समुचित उपयोग पर चर्चा की। सभी प्रशिक्षकों ने कहा कि राज्य परियोजना कार्यालय द्वारा बच्चों को आधुनिक तकनीक के साथ शिक्षण से जोड़ने को तमाम वीडियो उपलब्ध कराए गए हैं। अध्यापक उनका प्रयोग कर विद्यालय के शैक्षिक माहौल को और बेहतर बना सकते हैं।शिक्षकों को प्रेरणा लक्ष्य हासिल करने एवं प्रेरक ब्लॉक बनाए जाने के लक्ष्यीत प्रयासों पर जोर दिया। प्रशिक्षण की ऑनलाइन मानिटरिंग वेब कैमरा द्वारा सीमेट से की जा रही है।आरपी द्वारा कराए गए प्रशिक्षण की फीडबैक भी सीमेट द्वारा लिया जा रहा है। इस अवसर पर सभी प्रशिक्षु प्रशिक्षक और अन्य संबंधित अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे।

Ezoicreport this ad