सुल्तानपुर : मिशन शक्ती नौवें दिन कलेक्ट्रेट में मनाया गया

सुल्तानपुर :-

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाए गए मिशन शक्ति के आखिरी व नौवें दिन जिलाधिकारी सुल्तानपुर रवीश गुप्ता, मुख्य विकास अधिकारी सुल्तानपुर अतुल वत्स तथा जिला पंचायत सदस्य बबीता तिवारी आदि की उपस्थिति में कलेक्ट्रेट सभागार में अपने कार्य क्षेत्र में उत्कृष्ट सेवा देने के लिए 37 महिलाओं को सम्मानित किया गया।इस कार्यक्रम मे डी एस टी ओ पन्नालाल, जिला विद्यालय निरीक्षक जय प्रकाश यादव, जिला विकास अधिकारी डॉ डी आर विश्वकर्मा, जिला प्रोबेशन अधिकारी अशोक कुमार, केश कुमारी राजकीय बालिका इंटर कॉलेज के प्रवक्ता शैलेन्द्र चतुर्वेदी आदि उपस्थित रहे।


कार्यक्रम में जिला पंचायत सदस्या बबीता तिवारी, बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष सुमन खरे, सुधा फाउंडेशन के अध्यक्ष सुधा सिंह, कमला नेहरू महाविद्यालय की एसोसिएट प्रोफेसर रंजना सिंह, राणा प्रताप महाविद्यालय की असिस्टेंट प्रोफेसर नीतू सिंह, केश कुमारी राजकीय बालिका इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य डॉ संगीता, रामकली बालिका इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्या डाॅ रीना सिंह, राम राजी बालिका इंटर कॉलेज की प्रधानाचार्या रेखा सिंह, डिस्ट्रिक्ट गाइड कैप्टन श्रीमती ज्योति सिंह, जिला व्यायाम शिक्षिका श्रद्धा सिंह, सहायक अध्यापिका प्राथमिक विद्यालय दूबेपुर श्रीमती अनुपम शुक्ला, प्रधानाध्यापिका प्राथमिक विद्यालय कुड़वार मालती सिंह तथा प्रधानाध्यापिका जयसिंहपुर मॉडल स्कूल कांति सिंह, महिला शक्ति केंद्र की जिला समन्वयक सरोज यादव आदि 37 महिलाओं को जिलाधिकारी द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी रवीश गुप्ता ने महिलाओं का नियमो, कानूनो व अधिकारो की जानकारी व उचित ज्ञान रखने पर जोर दिया। सभी को अच्छे व समयबद्ध कार्य सम्पादित करने बधाई दी। मुख्य विकास अधिकारी अतुल वत्स ने अनुशासन, कर्तव्यनिष्ठा और ईमानदारी के संस्कार सभी महिलाओं को समाज तक पहुंचाने का आवाह्न किया। जिला पंचायत सदस्या बबिता तिवारी ने विजयादशमी की शुभकामनाएं देकर नारी सशक्तिकरण के मिशन शक्ति को जन जन तक पहुंचाने के लिए कार्य करने का प्रारम्भ पडोस से करने पर जोर दिया तथा योगी सरकार की बालिकाओं व महिलाओं के हित मे चल रही योजनाओं के विषय मे विस्तार से चर्चा की।
कार्यक्रम का संचालन व धन्यवाद ज्ञापन जिला विकास अधिकारी डाॅ डी आर विश्वकर्मा ने किया।