प्रशासन के लाख कोशिशों के बाद भी दुकानदार दुकान और रोड में घूमते नजर आए लोग

प्रशासन के लाख कोशिशों के बाद भी दुकानदार दुकान और रोड में घूमते नजर आए लोग
प्रशासन के लाख कोशिशों के बाद भी दुकानदार दुकान और रोड में घूमते नजर आए लोग
मौदहा(हमीरपुर)-
   लॉकडाउन का अनुपालन कराने के लिए बुधवार की सुबह से ही प्रशासन  दुकानदार और लोगों में चलता रहा खेल लाख कोशिशों के बाद भी प्रशासन नाकामयाब, खोलते रहे दुकानदार दुकान और रोड में घूमते नजर आए लोग,कस्बे में लगातार हो रहे कोविड़ गाइड लाइन नियमों को तार तार करने का सिलसिला अब भी जारी है
                          विभिन्न समाचार पत्रों के माध्यम से प्रशासन अपनी कुंभ करनी नींद से जाग गया और आज कस्बे में हल्की सी  सख्ती भी दिखाई दी, डिप्टी कमिश्नर वाणिज्य कर जयसेन, खाद्य निरीक्षक आर एस यादव, कोतवाल तारा सिंह पटेल, तहसील दार रामानुज शुक्ल, क्षेत्राधिकारी शैलेन्द्र कुमार त्रिपाठी सहित अन्य अधिकारी आज पहली बार अपने वाहनों से उतर कर रोड में पहली बार दिखाई दिए उन्होने रोड में कई वाहनों के चालान किए और दुकानदारों को  चेतावनी भी दी लेकिन लोगों ने उनकी एक न सुनी उन्होंने दुकानें खोली और लोग जमकर रोड में नजर आए इस तरह प्रशासन को फिर एक बार मुंह की खानी पड़ी
                 क्योंकि पुलिस के दो कदम आगे चलते ही दुकानदार अपनी दुकानों के अंदर अच्छी खासी भीड़ जमा करते रहे, कस्बे में उपयोगी चीजों के आलावा अन्य दुकानें भी खुली रही और इस तरह प्रशासन और लोगो में चूहे बिल्ली का खेल दिन भर चलता रहा क्योंकि कुछ ही दिनों में ईद का त्योहार और मौदहा क्षेत्र में मुस्लिम समाज की संख्या अधिक होने के कारण त्योहार में पैसा कमाने चक्कर में दुकानदार बाज नहीं आ रहे हैं और इसी तरह बैंको में भी अत्यधिक भीड़ भी देखी जा रही है,अगर इसी तरह कस्बे में नियमों की हीला हवाली चलती रही तो कोरोना विस्फोट क्षेत्र में तय मानिए,  लॉक डाउन के नियमो के उलंघन के चलते कोतवाल तारा सिंह पटेल, क्षेत्राधिकारी शैलेन्द्र कुमार त्रिपाठी सहित अन्य आला अधिकारियों के ऊपर सवालिया निशान लग रहे हैं।