तमाम उपलब्धियों से विभूषित शिल्पा शुक्ल ने भदोही में संभाला सेंटर मैनेजर का पदभार ।

कम ही समय मे महिलाओं में बनाई अलग पहचान ।

ए •के • फारूखी ( रिपोर्टर )

ज्ञानपुर,भदोही ।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय से स्नातक शिल्पा शुक्ला विश्वविद्यालय के समय से ही इलाहाबाद में स्त्री अधिकार संगठन जैसी समाजसेवी संस्थाओं में वालंटियर के तौर पर काम कर चुके हैंl एम.ए.,बीएड और  एमएसडब्ल्यू तथा अन्य उपाधियों से प्राप्त शिल्पा शुक्ला की रुचि हमेशा से ही सामाजिक कार्यों में रही हैl

01 फरवरी 2020 को भदोही में इन्होंने महिला कल्याण विभाग के सखी वन स्टॉप सेंटर में सेंटर मैनेजर पद को ग्रहण कियाl पद को ग्रहण करने के उपरांत से अब तक महिलाओं के घरेलू हिंसा व अन्य अपराधों से संबंधित सैकड़ों केसों का इन्होंने निस्तारण कियाl इतने कम समय में ही इन्होंने भदोही जिले में अपनी पहचान बना लीl

मिशन शक्ति के अंतर्गत चलने वाले कार्यक्रमों में उन्होंने स्वयं गांव-गांव जाकर महिलाओं को जागरूक करने का कार्य कियाl 181 महिला हेल्पलाइन पर उन्होंने अपना स्वयं का नंबर कनेक्ट किया है जिससे कि पीड़ित महिलाओं को न्याय मिलने में विलंब ना होl

उनका कहना है कि महिला घरेलू हिंसा से पीड़ित महिला अगर सेंटर पर आने में असमर्थ है तो वह फोन व्हाट्सएप के माध्यम से अपना शिकायत पत्र इन्हें व्हाट्सएप कर सकती है जिसके माध्यम से यह आगे की कार्यवाही करती हैंl हमारे सेंटर पर कई बार ऐसे केस भी आए हैं जो पति पत्नी के बीच में देखने को मिलते हैं

जोकि बहुत मामूली और छोटे होते हैं किंतु आपस में कम्युनिकेशन गैप होने के कारण  बात बहुत बड़ी बन जाती है, जिसके कारण पति-पत्नी के बीच में अलगाव जैसी स्थिति बन जाती हैl शिल्पा शुक्ला ने ऐसी कई स्थितियों में स्वयं काउंसलिंग करके कई परिवारों को जोड़ने का कार्य किया हैl

इनका कहना है कि यदि आपके परिवार में इस प्रकार का कोई भी विवाद चल रहा हो तो आपको सखी वन स्टॉप सेंटर में आने की आवश्यकता है यहां हम दोनों पक्षों की बात सुनकर दोनों पक्षों की काउंसलिंग करते हैं तथा परिवार को जोड़ने का कार्य करते हैंl

उनका कहना है कि जमीन का विवाद सबसे बड़ा विवाद होता है किंतु कई स्थितियों में शिल्पा शुक्ला ने स्वत संज्ञान लेते हुए दोनों पक्षों की मर्जी से ग्रामप्रधान को मध्यस्थ बनाते हुए जमीन के विवादों का भी अपने सेंटर पर समझौता कराया हैl महिला किसी भी प्रकार के विवाद /हिंसा का सामना कर रही है

तो वह उनके पर्सनल नंबर पर फोन करके कानूनी प्रक्रिया अन्य प्रक्रियाओं के बारे में भी जान सकती हैl शिल्पा शुक्ला का कहना है कि महिलाओं को न्याय देने के लिए हमारा विभाग हमेशा तत्पर हैl हम 24 घंटे आपकी सेवा में खड़े हैं बस जरूरत है तो आप के आगे आकर आवाज उठाने की।