प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी बिहार को कई विकास परियोजनाओं की सौगात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी बिहार को कई विकास परियोजनाओं की सौगात
The Prime Minister, Shri Narendra Modi dedicating to the nation three key projects related to the Petroleum sector in Bihar via video conferencing, in New Delhi on September 13, 2020.

बिहार के लिए मंगलवार का दिन मंगलमय रहा जब प्रधानमंत्री ने बुनियादी ढांचे से जुडी सात महत्वपूर्ण परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास वर्चुअल माध्यम से किया. ये सभी परियोजनाएं शहरी गरीबों, शहर में रहने वाले मध्यम वर्ग के लोगों का जीवन आसान बनाएंगी. इनमें से चार परियोजनाएं जल आपूर्ति से संबंधित है, दो परियोजनाएं सीवरेज ट्रीटमेंट के लिए तथा एक परियोजना रिवर फ्रंट डेवलपमेंट से संबद्ध है.

मंगलवार का दिन बिहार के लोगों के लिए सौगात लेकर आया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में बुनियादी ढांचे से जुडी सात महत्वपूर्ण परियोजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास वर्चुअल माध्यम से किया. ये सभी परियोजनाएं शहरी गरीबों, शहर में रहने वाले मध्यम वर्ग के लोगों का जीवन आसान बनाएंगी. प्रधानमंत्री ने इस मौके पर बिहार सरकार की तारीफ की और कहा कि केंद्र और बिहार के साझा प्रयासों से राज्य में मूल सुविधाओं के ढांचे में निरंतर सुधार हो रहा है.

जिन परियोजनाओं की सौगात बिहार को मिली है, इनमें से चार परियोजनाएं जल आपूर्ति से संबंधित हैं, दो परियोजनाएं सीवरेज ट्रीटमेंट के लिए तथा एक परियोजना रिवर फ्रंट डेवलपमेंट से संबद्ध है. पीएम ने बेऊर में नमामि गंगे योजना अंतर्गत बनाए गए सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का उद्घाटन किया तो साथ ही करमलीचक में नमामि गंगे योजना के अंतर्गत बनाए गए सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का भी उद्घाटन किया. सीवान नगर परिषद मे AMRUT योजना के अंतर्गत जलापूर्ति योजनाओं का लोकार्पण किया गया. छपरा नगर निगम के क्षेत्र में AMRUT योजना के अंतर्गत जलापूर्ति योजनाओं का लोकार्पण किया गया. इसके अलावा AMRUT योजना के अंतर्गत ‘मुंगेर जलापूर्ति योजना’ का शिलान्यास भी हुआ. AMRUT योजना के तहत ही जमालपुर जलापूर्ति योजना का शिलान्यास भी किया गया. पीएम ने नमामि गंगे योजना के अंतर्गत मुजफ्फरपुर रिवर फ्रंट डेवलपमेंट योजना का शिलान्यास भी किया. इन सभी परियोजनाओं की लागत 541 करोड़ है. सभी परियोजनाओं का क्रियान्वयन बिहार के नगर विकास एवं आवास विभाग के अधीन बुडको द्वारा किया जा रहा है.

पीएम ने बिहार में बुनियादी सुविधाओं की कमी के लिए पूर्ववर्ती सरकार को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि कुछ सरकारों ने या तो अनेक मूल समस्याओं को या तो टाल दिया या फिर जब भी इनसे जुड़े काम हुए वो घोटालों की भेंट चढ़ गए. प्रधानमंत्री ने बताया कि कैसे केंद्र और राज्य सरकारों की मदद से बिहार में विकास के काम हो रहे हैं.

बीते कुछ महीनों में बिहार के ग्रामीण क्षेत्र में 57 लाख से ज्यादा परिवारों को पानी के कनेक्शन से जोड़ा गया है. इसमें बहुत बड़ी भूमिका प्रधानमंत्री गरीब कल्याण रोजगार अभियान ने भी निभाई है. बीते 1 साल में, जल जीवन मिशन के तहत पूरे देश में 2 करोड़ से ज्यादा पानी के कनेक्शन दिए जा चुके हैं. आज देश में हर दिन 1 लाख से ज्यादाघरों को पाइप से पानी के नए कनेक्शन से जोड़ा जा रहा है. पूरे बिहार में AMRUT योजना के तहत लगभग 12 लाख परिवारों को शुद्ध पानी के कनेक्शन से जोड़ने का लक्ष्य है. इसमें से करीब 6 लाख परिवारों तक ये सुविधा पहुंच भी चुकी है.

प्रधानमंत्री ने गंगा की स्वच्छता पर भी बात की और कहा कि बिहार में 6 हज़ार करोड़ रुपये से अधिक की 50 से ज्यादा परियोजनाएं स्वीकृत की गई हैं.

प्रधानमंत्री ने अभी हाल ही में घोषित प्रोजेक्ट डॉल्फिन का जिक्र किया और कहा कि “प्रोजेक्ट डॉल्फिन” से बिहार को बहुत अधिक लाभ होगा, यहां गंगा जी में बायोडायवर्सिटी के साथ-साथ पर्यटन को भी बल मिलेगा.

केंद्र सरकार और खुद प्रधानमंत्री लगातार बिहार के विकास पर जोर दे रहे हैं और हाल के दिनों में लगातार बिहार के लिए कई परियोजनाओं की शुरुआत की गयी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here