मानवता पर आए संकट से निपटने की मुहिम में जुटे सदर विधायक

मानवता पर आए संकट से निपटने की मुहिम में जुटे सदर विधायक
स्वतंत्र प्रभात संवाददाता चंदन कुमार राणा कटकमदाग हजारीबाग

हजारीबाग के कई निजी अस्पतालों संचालकों से मिलकर उन्हें किया प्रेरित और अन्य सभी अस्पतालों संचलाओं से भी किया अपील

कहा मानवता के लिए कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज में आगे आएं, मेरा हरसंभव सहयोग आप सभी को मिलेगा

मधुपुर उपचुनाव प्रचार से लौटने के बाद रविवार को हजारीबाग सदर विधायक मनीष जायसवाल मानवता पर कोरोना का आया वैश्विक संकट से हजारीबाग के लोगों को उबारने और उन्हें बेहतर स्वास्थ सुविधा उपलब्ध हो सकें इस मुहिम में जुट गए। विधायक श्री जायसवाल ने हजारीबाग के कई निजी अस्पतालों में पहुंचकर अस्पताल संचालकों से मिलकर उनकी व्यवस्था का पूरा जायजा लिया और उन्हें कोविड-19 के मरीजों को इलाज के माध्यम से सहयोग पहुंचाने को प्रेरित किया। विधायक   जायसवाल सर्वप्रथम शिवपुरी अवस्थित वंदना नर्सिंग होम पहुंचे
जहां अस्पताल संचालक सह प्रख्यात शल्य चिकित्सक डॉ.अभिषेक कुमार से मिलकर हॉस्पिटल की व्यवस्था का पूरा जायजा लिया। डॉ अभिषेक कुमार ने बताया कि हमारे यहां 23 बेडेड कोविड वार्ड बनाने की प्रक्रिया जारी है। जल्द ही सभी बेड मरीजों के सुविधा के लिए उपलब्ध रहेगा। फिलहाल यहां संक्रमित मरीज का इलाज शुरू कर दिया गया है। यहां से विधायक श्री जायसवाल पगमिल स्थित लाइफ केयर हॉस्पिटल पहुंचे और लाइफ केयर हॉस्पिटल के संचालक निशांत प्रधान से जानकारी ली। निशांत प्रधान ने बताया कि हमारे यहां 30 बेडेड कोविड निर्माण की प्रक्रिया पूरी कर ली गई है। कोरोना संक्रमित मरीज का इलाज भी शुरू कर दिया गया है। कोनार पूल स्थित क्षितिज हॉस्पिटल में संचालक राजीव बग्गा से दूरभाष पर बात कर और हॉस्पिटल एडमिस्ट्रेटर अंजनी कुमार पाठक संग मिलकर क्षितिज अस्पताल के तैयारी का जायज़ा लिया।
यहां उन्होंने बताया कि क्षितिज अस्पताल में 50 बेडेड कोविड वार्ड के निर्माण की प्रक्रिया चल रही है। एक – दो दिनों में इसे चालू कर दिया जाएगा। यहां से विधायक श्री जायसवाल डेमोटांड़ स्थित श्रीनिवास हॉस्पिटल पहुंचे और यहां हॉस्पिटल संचालक प्रवीण श्रीनिवास से मिलकर उन्हें जल्द को कोविड वार्ड के निर्माण को प्रेरित किया। प्रवीण श्रीनिवास ने बताया कि हमारे यहां भी आने वाले समय में 30 बेडेड कोविड वार्ड का निर्माण किया जाएगा। विधायक श्री जायसवाल ने इन सभी अस्पतालों में पहुंचकर इनके संचालक से बात करके तैयारी के साथ ऑक्सीजन की उपलब्धता और रेमडीशिविर इंजेक्शन उपलब्ध कराने की प्रक्रिया की जानकारी ली। हजारीबाग के अन्य सभी निजी नर्सिंग होम संचालकों से भी विधायक श्री जायसवाल ने अपील किया की संकट के इस दौर में मानवता के लिए आगे आएं और कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज में सहयोग करें। विधायक श्री जायसवाल ने आश्वस्त किया कि मैं हर संभव आप सभी के सहयोग को तत्पर हूं और रंहुगा। जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और आपके बीच एक कड़ी बनकर सभी के बीच समन्वय स्थापित कराकर आप सभी को जरूरत के मुताबिक़ ऑक्सीजन सिलेण्डर और रेमडीशिविर इंजेक्शन की उपलब्धता में भी हरसंभव सहयोग करूंगा ।
विधायक  जायसवाल ने यह भी कहा कि विपदा की इस स्थिति में वर्तमान झारखंड सरकार पूरी तरह उदासीन है। हजारीबाग में अनेकों भवन खाली पड़े हुए हैं सरकार और प्रशासन चाहती तो इन सभी भवनों में बेड लगाकर संक्रमित मरीजों को राहत पहुंचाया जा सकता था। लेकिन वर्तमान सरकार में इच्छाशक्ति की घोर कमी है जिसका खामियाजा जनता भुगत रही है। उन्होंने कहा कि एक जनप्रतिनिधि के नाते जनता के हर सुख- दुख में सहभागी बनना मेरा कर्तव्य है और मैंने हमेशा अपने कर्तव्य का पालन पूरी निष्ठा और ईमानदारी से किया हैं और आगे भी करूंगा। विधायक श्री जायसवाल ने लोगों से आपदा की इस घड़ी में बिल्कुल नहीं घबरा कर सुरक्षित तरीके से जीवन संचालन का भी आग्रह किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here