योगी—मोदी के अदेशों की धज्जियां उड़ा रहें सरकारी अध्यापक व प्रबंधक

योगी—मोदी के अदेशों की धज्जियां उड़ा रहें सरकारी अध्यापक व प्रबंधक
स्वतंत्र प्रभात/सुल्तानपुर
सन्तोष कुमार पान्डेय

सुल्तानपुर/चाँदा। वर्तमान समय मे केन्द्र और राज्य मे बीजेपी कि सरकार क्रमशः मोदी, योगी  के लाखो  प्रयासों के बाद भी सरकारी स्कूल के अध्यापक उनके आदेशों का मखौल उडाने से बाज नही आ रहे। कहीं शिक्षाको की लेट लतीफी तो कहीं विद्यालय मे शिक्षा का गिरता स्तर मोदीऔर योगी जी को चिडाता नजर आ रहा है।                                  

                       

मामला सुल्तानपुर जिले के प्रतापपुर कमैचा विकास खण्ड अतंर्गत (कोथरा) प्राथमिक  बिधालय बनभोकार का है जहाँ पर आज सुबह करिब 9:00 बजे हमारी टीम प्राथमिक विद्यालय बनभोकार पहुंची तो वहाँ का दृश्य देखकर दंग रह गईA

हमने देखा विधालय मे दो शिक्षामित्र एक बीटीसी प्रशिक्षु दो रसोईया और कुछ बच्चे उपस्थित थे परंतु भवन के सभी दरवाजो पर ताला लटक रहा था जब हमने वहा उपस्थित शिक्षामित्र, रसोइया ,बी टी सी प्रशिक्षु से पुछ-ताछ कि तो बताया गया कि विधालय कि चाभी प्रधानाचार्य (राम बाबू )के पास है। जो अभी आये नही है।

उसी समय हमारी टीम द्वारा विधालय परिसर का निरक्षण किया गया बहुत सारी कमिया उभर कर सामने आई हमने देखा सौचालय मे गंदगी का अम्बार लगा था विधालय देख कर पता चल जाता है। सफाईकर्मि भी नदरत रहते है। वही हमारी टीम बच्चों से थोड़ी शैक्षिक जानकारी पुछे गई तो किसी भी बच्चे का सही जबाब नही मिला यहाँ तक कि उत्तर प्रदेश के  मुख्यमंत्री का और  देश के प्रधानमंत्री जैसे आम सवालों के भी सही जबाब नही मिले।    

                               

 जब विधालय मे उपस्थित अध्यापकों द्वारा विधालय मे हमारी टीम की जानकारी प्राधानाचार्य को  फोन के मध्यम से सुचना दी गई तो अनान-फनान मे साहयक अध्यापक (राम भवन सिंह)आया और भवन का ताला खोल कर फिर पुना बैरन वापश लौट गया।।        

अब  सवाल ये खाडा होता है  देश के भविष्य के साथ खिलवाड़ करना कितना उचित है। अखिर कब तक  प्रदेश कि शिक्षा बेवस्था धूल फकती  रहेगी। और सबसे ध्यान देने वाली बात  जो  इनसे बडे अधिकारी है क्या उनके द्वारा कोई जानकारी या निरक्षण नही किया जाता?                            

 अब देखना ये है  इतनी बडी समस्या का निदान किया जयेगा या ठन्डे बस्ते  मे डाल दिया जयेगा और अध्यपक मनमानी करते रहेगेA                 
 

Loading...

Comments