सडक़ सुरक्षा समीति की मासिक बैठक में एन.एच.-44 पर बने फ्लाईओवर की साईडो से मिट्ïटी खिसकने का मामला उठा

सडक़ सुरक्षा समीति की मासिक बैठक में एन.एच.-44 पर बने फ्लाईओवर की साईडो से मिट्ïटी खिसकने का मामला उठा। जिम्मेवारी तय करने और जांच के लिए उत्तर क्षेत्रीय अधिकारी को लिखेंगे - उपायुक्त डॉ. आदित्य दहिया। 

करनाल 10 सितम्बर,   सडक़ सुरक्षा समीति की सोमवार को हुई मासिक बैठक में एन.एच.-44 पर घरौण्ड़ा, मधुबन, तरावड़ी व नीलोखेड़ी के पास बनाए गए फ्लाईओवर की साईडो से मिट्ïटी के कटाव का मामला जोर-शोर से उठाया गया। समीति के सदस्यो ने बताया कि इस समस्या से दुर्घटनाएं हो रही हैं तथा इस बात से इंकार नही किया जा सकता कि आने वाले दिनो में कोई बड़ी दुर्घटना भी हो सकती है। समीति के अध्यक्ष एवं उपायुक्त डॉ. आदित्य दहिया ने इसे गम्भीरता से लिया और कहा कि इसकी जांच के लिए एन.एच. के रिजनल ऑफिसर (नॉर्थ) को लिखेंगे और रिस्पोंसिबिलिटी भी फिक्स करवाएंगे। इस शिकायत को लेकर बैठक में उपस्थित एन.एच.ए.आई. के एक प्रतिनिधि ने कहा कि वे इसकी रिपेयर करवा देंगे। 

 इसी तरह का एक ओर मामला नई शिकायतो के एजेण्डे में शामिल था। सांभली-प्रेम खेड़ा रोड़ पर बनी एक पुलिया पर टेडा-मेढा मोड़ आने-जाने वालो के लिए जोखिम भरा है। उपायुक्त ने करनाल जल सेवाएं मण्डल के कार्यकारी अभियंता को निर्देश दिए कि इस मोड़ पर क्रैश बैरियर लगवाएं और चेतावनी का साईन बोर्ड भी लगाया जाए ताकि यहां से गुजरने वाले वाहन सावधानी से निकल सकें। शहर के गुरू ब्रह्ïमानंद चौक के पास दिल्ली की ओर जाने वाली सर्विस लेन पर बनी ड्रेन पर एक जगह टूटी स्लैबो का मामला भी नई शिकायतो में शामिल था। इस पर सुनवाई करते हुए उपायुक्त ने एन.एच.ए.आई. के अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस जगह पर ड्रेन की मरम्मत और आर.सी.सी. की स्लैब डलवाएं। 

 शहर के महर्षि वाल्मिकी चौक (कमेटी चौक) तथा महात्मा गांधी चौक पर ट्रैफिक कंट्रोल के लिए काफी समय से लगे बैरियर को एक सप्ताह के लिए हटाकर आने-जाने वालो की सुविधा और ट्रैफिक कंट्रोल के लिए ट्रायल ली जाएगी।

बैठक में समीति के सदस्यो ने जोर दिया कि अस्पताल रोड़ अब पहले से चौड़ी हो गई है, यहां का बैरियर हटा देना चाहिए। इसी तरह कमेटी चौक पर कर्ण गेट बाजार में जाने के लिए ट्रैफिक को ऊपर से आना पड़ता है,

इसलिए यहां लगे बैरियर को हटाना चाहिए, ताकि यातायात आसान हो। इस पर उपायुक्त ने कहा कि ट्रायल करके देखते हैं, ठीक रहा तो हटा देंगे। हालांकि शहर के ट्रैफिक इंचार्ज ने इस पर आपत्ति जताते हुए कहा कि हटाने से ट्रैफिक कंट्रोल नही होगा, फिर भी ट्रायल करके देख लेते हैं।

इसी तरह अस्पताल चौक पर लगी बैरिकेटिंग को भी हटाने की मांग बैठक में उठी। उपायुक्त ने कहा कि अस्पताल रोड़ व मॉडल टाऊन रोड़ से आने वाले वाहनो को कुंजपुरा रोड़ पर जाने के लिए, मुगल कैनाल पर बनी पुलिया के पास से मुडक़र कुंजपुरा रोड़ पर आते हैं। इसी रोड़ पर बीच में एक कट पर जाम लगा रहता है ट्रैफिक यदि बीच में दिए गए कट की बजाए मुगल कैनाल पर छोटे ट्राईएंगल पार्क के ऊपर से घूमकर आए तो कट पर जाम की समस्या का हल हो सकता है।

उन्होने इस बारे आर.टी.ए. कार्यालय के निरीक्षक जोगिन्द्र ढुल और आर.एस.ए. शुभम भारद्वाज को निर्देश दिए कि वे इस पर स्टडी कर देखें। पुरानी सब्जी मण्डी रोड़ पर एक कट से होकर गली के रास्ते दुपहिया वाहन कलन्दरी गेट पर निकलते हैं, उन्हे गुरूद्वारा मोड़ पर नही जाना पड़ता,

लेकिन इस गली के बीच में खड़े एक खम्बे से यातायात को दिक्कत आती है। उपायुक्त ने बिजली विभाग के कार्यकारी अभियंता को निर्देश दिए कि वे इसे हटवाएं, साथ ही नगर निगम के ए.ई. को यह भी निर्देश दिए कि कलन्दरी गेट के पास नाले पर लगाई गई लोहे की जाली को दुरूस्त करवाएं। 

 उपायुक्त ने बताया कि सडक़ सुरक्षा समीति की बैठक में पिछली 19 शिकायतो में से 15 का समाधान सम्बंधित विभागा के अधिकारियों द्वारा किया जा चुका है। चार अपेक्षित रही, उपायुक्त ने इनसे सम्बंधित पी.डब्ल्यू्ï.डी. (बी. एंड आर.) जैसे अधिकारियों को निर्देश दिए कि आगामी मीटिंग तक इनका भी समाधान हो और फोटो सहित इनकी लेकर आएं। 

 बैठक में पुलिस विभाग की ओर से उपस्थित प्रतिनिधि ने बताया कि बीते मास अगस्त में जिला में बिना हेल्मेट पहने, व्यक्तियो के 5789 चालान किए गए। इसी प्रकार रैड लाईट जम्पिंग के 68, ओवर स्पीड के 543, गलत पार्किंग के 117, गलत दिशा में ड्राईविंग के 1052, सडक़ पर चलते मोबाईल प्रयोग के 150, शराब पीकर गाड़ी चलाने के 105, सीट बेल्ट ना लगाने के 454, सी.सी.टी.वी. पोस्टल चालान 1395, दुपहिया वाहन पर तीन सवारी बैठाने के 512, गलत ढंग से लेन बदलने के 79 तथा ट्रैफिक नियमो का उल्लंघन करने वाली 6 स्कूल बसों के भी चालान किए गए। बैठक में बताया गया कि आर.टी.ए. करनाल की ओर से बीते मास में ओवर लोडिंग के 412 चालान किए गए। जबकि थ्री-व्हीलर और ई-रिक्शा के भी 27 चालान हुए। इसी मास में इस विभाग द्वारा 1 करोड़ 80 लाख रूपये की राशि विभिन्न मामलो में रिकवर की गई। 

 बैठक में उपस्थित सदस्यो ने शहर की सडक़ो से ताल्लुक वाले करीब 1 दर्जन नए प्वाईंट भी उपायुक्त को बताए। इनमें कुछ जगहो पर सडक़ो पर बने सीवरेज होल के ढक्कन नीचे बताए गए, जो खढ्ïढे का रूप धारण किए है, उन्हे दुरूस्त करने की बात उठाई। समीति के सदस्य जे.आर. कालड़ा ने एक मामला उठाते हुए कहा कि पुरानी सब्जी मण्ड़ी के सामने रोड़ पर बीज मार्किट की दुकाने हैं, जहां गढ्ïढे हैं और उनमें पानी भरा रहता है, इस समस्या का समाधान करवाया जाए।

कुछ सदस्यो ने मामला उठाया कि सैक्टर-13 एक्सटेंशन से गुरू हरिकृष्ण पब्ल्कि स्कूल की ओर जाने वाली सडक़ पर बेतरतीब स्पीड ब्रेकर बनाए हुए हैं, जो यातायात में व्यवधान पैदा करते हैं, इन्हे हटवाया जाए। समीति के एक अन्य सदस्य प्रमोद गुप्ता ने बताया कि बीज मार्किट के सामने से एक सडक़ आकाश होटल की तरफ पुरानी सब्जी मण्ड़ी रोड़ पर जा मिलती है, इसकी सफाई करवाई जाए। यहां से ट्रैफिक डाईवर्ट होकर भीड़ की समस्या से काफी हद तक निजात दिलवा सकता है। 

 बैठक में आर.टी.ए. सचिव व अतिरिक्त उपायुक्त निशंात यादव, घरौण्ड़ा के एस.डी.एम. मोहम्मद इमरान रजा, एस.डी.एम. इन्दी सुमित सिहाग, हरियाणा शहर विकास प्राधिकरण की सम्पदा अधिकारी अनुपमा सांगवान के अतिरिक्त विभिन्न विभागो के अधिकारी उपस्थित थे। 

फोटो कैप्शन:- जिला सडक़ सुरक्षा समीति की बैठक में उपायुक्त डॉ. आदित्य दहिया शिकायतो के समाधान की समीक्षा करते हुए।      

Comments