इनोवेटिव प्रोडक्ट डेवलपमेंट के लिए ‘सीरी‘ के साथ जुड़ा फ्लीका इंडिया

इनोवेटिव प्रोडक्ट डेवलपमेंट के लिए ‘सीरी‘ के साथ जुड़ा फ्लीका इंडिया

13 नवंबर 2019, जयपुरः

वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) -

केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिकी अभियांत्रिकी इंजीनियरिंग अनुसंधान संस्थान (सीरी), पिलानी ने टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम (टीपीएमएस) विकसित करने के लिए जयपुर के स्टार्टअप फ्लीका इंडिया के साथ साझेदारी की है। टीपीएमएस के माध्यम से ड्राइवर के लिए टायर की निगरानी करना आसान हो जाएगा

और वे एयर लीकेज, टायर बस्ट और अन्य असुरक्षित ड्राइविंग स्थितियांे को बेहतर तरीके से समझने में सक्षम हो सकेंगे। इस सिलसिले में फ्लीका और सीरी ने एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं। यह ज्ञापन अपनी तरह की साझेदारी की एक ऐसी परियोजना है, जिसमें फ्लीका इंडिया तकनीकी परीक्षण और शोध के लिए सीरी की लैब का उपयोग करेगी।

पिलानी स्थित सीएसआईआर-सीरी, वैज्ञानिक ज्ञान, अनुसंधान उत्कृष्टता और इलेक्ट्रॉनिक्स में नवीन प्रौद्योगिकी के साथ-साथ संबद्ध विज्ञान और इंजीनियरिंग के लिए एक प्रमुख केंद्र है।


इस समझौता ज्ञापन की जानकारी देते हुए फ्लीका इंडिया के फाउंडर और सीईओ श्री टीकमचंद जैन कहते हैं, ‘‘सीरी, पिलानी के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा करते हुए हमें खुशी का अनुभव हो रहा है।

सीरी के सहयोग से टीपीएमएस यंत्र विकसित करने के लिए हमें अनुभवी वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों की सलाह मिलेगी। प्रोडक्ट डेवलपमेंट के लिहाज से सीरी में स्थित विश्व स्तरीय आरएंडडी लैब हमें महत्वपूर्ण परीक्षण करने की सुविधा प्रदान करेगी। सीरी के इस सहयोग से फ्लीका को ऐसी टैक्नोलाॅजी विकसित करने में मदद मिलेगी, जिसकी सहायता से लाॅजिस्टिक उद्योग की छवी बदल जाएगी।‘‘

इस अवसर पर सीएसआईआर-सीरी , पिलानी के डायरेक्टर डाॅ डी के असवाल ने कहा, ‘‘मौजूदा प्रतिस्पर्धी दुनिया में हमारा सामना शायद ही कभी ऐसे स्टार्टअप से होता है, जो प्रौद्योगिकी प्रगति के साथ पूरे उद्योग को बदलने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है। फ्लीका पहला ऐसा स्टार्टअप है

जिसे हम अपने आरएंडडी सेंटर में तकनीकी सहायता प्रदान कर रहे हैं। फ्लीका एक विशिष्ट सेगमेंट के लिए काम कर रहा है, इसलिए गहन शोध की आवश्यकता है। हमें यकीन है कि इस प्रोडक्ट को विकसित करने की यात्रा निश्चित रूप से लाॅजिस्टिक इंडस्ट्री के मौजूदा परिदृश्य को पूरी तरह से बदल देगी।‘‘

फ्लीका इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के बारे में राजस्थान सरकार की आईस्टार्ट पहल से पहचाने जाने वाले, जयपुर स्थित स्टार्ट-अप फ्लीका इंडिया इंटरनेट आॅफ थिंग्स और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस आधारित टायर मैनेजमेंट सेवाएं प्रदान करता है। कंपनी ने टायरों का निरीक्षण, विश्लेषण, नवीनीकरण और रीट्रेडिंग करके लॉजिस्टिक्स बाजार में अपनी एक खास पहचान बनाई है।

वर्तमान में फ्लीका 15 शहरों को कवर करते हुए 8 राज्यों में काम करती है। वर्तमान में राष्ट्रिय राजमार्गों पर 120 से अधिक फ्लीका सेंटर चालू हैं। कंपनी की योजना भारत भर में प्रत्येक 100 - 200 किलोमीटर पर फ्लीका सेंटर स्थापित करने की है जहां वे बुनियादी वाहन जांच जैसे अलाइंमेंट, धुलाई, टायर दबाव, चालक के लिए सुविधाएं, सुरक्षित वाहन पार्किंग आदि प्रदान करेंगे।

Comments