हमीरपुर की टॉप खबरे

हमीरपुर की टॉप खबरे

हमीरपुर 29 जून 2019

 पोषण समिति की समीक्षा बैठक मुख्य विकास अधिकारी आरके सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई ।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि कुपोषित बच्चों का अनिवार्य रूप से मासिक वजन किया जाए ,ग्रोथ चार्ट को अपडेट रखा जाए तथा समय से पोषाहार का वितरण किया जाए ।बच्चों को बेहतर स्वास्थ्य देने हेतु शिशु को जन्म के 1 घंटे के अंदर मां का स्तनपान के बारे में बताया जाय और समय से टीकाकरण किया जाए। शत-प्रतिशत संस्थागत प्रसव कराया जाए। गर्भवती महिलाओं को समय-समय पर आयरन की दवाई दी जाए

उन्हें  नियमित रूप से हरी पत्तेदार सब्जी  का सेवन करने, प्रतिदिन  गुड़ खाने  के बारे में बताया जाए । दो बच्चों के बीच उचित समयांतराल  रखने के बारे में प्  जानकारी दी जाए  ।पंचायती राज विभाग द्वारा कुपोषित व अति कुपोषित बच्चों के परिवार हेतु अनिवार्य रूप से  शौचालय की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए , सुपोषण स्वास्थ्य मेले पर ग्राम प्रधान कन्वर्जेंस एक्शन प्लान बनाने में मुख्य सेविका एवं  एएनएम  को आवश्यक सहयोग प्रदान किया जाए।  

खाद एवं रसद विभाग द्वारा कुपोषित व अति कुपोषित बच्चों के परिवारों की राशन कार्ड उपलब्धता एवं राशन का मासिक वितरण सुनिश्चित  किया जाए  ।शिक्षा विभाग द्वारा स्कूलों में बच्चों को पोषण एवं स्वास्थ्य शिक्षा पर सत्र आयोजित कराया जाए।  मनरेगा द्वारा कुपोषित बच्चों के परिवार को रोजगार उपलब्ध कराया जाए  ।  इसमें सभी के द्वारा  सहयोग की भावना से कार्य किया जाए  इसमे किसी प्रकार की लापरवाही न की जाय।

इस अवसर पर  पीडी चित्रसेन ,डीडीओ विकास ,  सीएमओ डॉक्टर संतराज, डीपीओ सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

 

हमीरपुर  

 उद्योग बंधु की समीक्षा बैठक मुख्य विकास अधिकारी आरके सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार कक्ष में संपन्न हुई।

 बैठक में प्रदूषण विभाग के अधिकारी व बांट माप निरीक्षक के अनुपस्थित होने पर मुख्य विकास अधिकारी ने स्पस्टीकरण प्राप्त करने व वेतन रोकने के निर्देश दिए।  मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि ओडीओपी के तहत उद्यमियों को बैंकों द्वारा प्राथमिकता पर ऋण उपलब्ध कराया जाए।

जनपद में उद्यमी फ्रेंडली वातावरण बनाया जाए जिससे उद्यमियों को  प्रोत्साहन मिले और जनपद में उद्योग,व्यापार ,वाणिज्य की प्रगति हो। उन्होंने कहा कि सभी संबंधित अधिकारियों द्वारा उद्यमियों की समस्याओं को प्राथमिकता के साथ निस्तारण किया जाए। बैंकों द्वारा उद्यमियों से सहयोगात्मक व्यवहार किया जाए ।उद्यमियों को बैंकों द्वारा अनावश्यक रूप से परेशान न किया जाए। इस अवसर पर उपायुक्त उद्योग ,उपायुक्त वाणिज्य कर, डिप्टी कलेक्टर अशोक यादव ,लीड बैंक मैनेजर सहित उद्योग बंधु के लोग उपस्थित रहे ।

 

हमीरपुर

 

 जल संरक्षण व संवर्धन के अंतर्गत भूजल संगोष्ठी का आयोजन  डॉ एपीजे अब्दुल कलाम सभागार  कक्ष में संपन्न हुआ ।

जल संरक्षण व संवर्धन गोष्ठी में मुख्य विकास अधिकारी आर0के0सिंह ने संबंधित अधिकारियों को बताया  कि विगत 05 वर्षों में जिस प्रकार वृहद स्तर पर घर घर शौचालयों का निर्माण कर उसके प्रयोग करने हेतु लोगों को प्रोत्साहित किया गया है। उसी प्रकार जल संरक्षण व संवर्धन  का कार्य आगामी 05 वर्षों तक चलेगा ।इसके अंतर्गत बुंदेलखंड में जल की समस्या के दृष्टिगत इसमें कार्य करने की बहुत संभावनाएं  है ।उन्होंने कहा कि जल संरक्षण व संवर्धन हेतु सभी विभागों द्वारा कार्य किया जाएगा इसके अंतर्गत जो कार्य किए जाएं

उनका संबंधित डिपार्टमेंट द्वारा डॉक्यूमेंटेशन अवश्य कराया जाए। इसके अंतर्गत नए तालाबों की खुदाई व पुराने तालाबों का जीर्णोद्धार ,बड़े नालों, नदियों व नहरों का पुनरुद्धार, वृक्षारोपण, चेक डैम निर्माण, वर्षा जल संचयन संबंधी अन्य कार्य आदि पर वृहद स्तर पर कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि  इस योजना में जन सहभागिता सुनिश्चित करने हेतु प्रत्येक गांव में होर्डिंग, पोस्टर , बैनर, नुक्कड़ नाटक, वॉल पेंटिंग आदि के माध्यम से प्रचार-प्रसार कर  प्रत्येक घर के प्रत्येक व्यक्ति को इस योजना से जोड़ने का कार्य किया जाए।

स्कूलों के छात्रों के माध्यम से जल संरक्षण व संवर्धन जागरूकता रैली का आयोजन किया जाए ।उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों द्वारा जल संरक्षण में सक्रियता के साथ समयबद्ध ढंग से सहभागिता सुनिश्चित किया जाय। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी ।उन्होंने कहा कि जल का दुरुपयोग करने वालों का चिन्हांकन कर पंचायत राज विभाग द्वारा नोटिस जारी करने की कार्रवाई की जाए। बैठक में लघु सिंचाई विभाग द्वारा इस संबंध में कोई कार्ययोजना प्रस्तुत न करने पर मुख्य विकास अधिकारी ने कड़ी फटकार लगाई तथा कहा कि अगली बैठक में अनिवार्य रूप से सभी विभागों से समन्वय स्थापित कर जल संरक्षण व संवर्धन हेतु एक बृहद कार्ययोजना  बनाकर उपलब्ध कराई जाए।

इसके अंतर्गत खेत तालाब योजना की प्रस्तावित 2019-20 की कार्य योजना की भी समीक्षा की गई।  मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि आंगनवाड़ी केंद्रों ,पंचायत भवनों, इंदिरा  तथा  आवास योजना के लाभार्थियों, लाल श्रेणियों के कुपोषित बच्चों के घर के पास सहजन का पेड़ अनिवार्य रूप से लगवाया जाए ।यह एक औषधीय व  पोषण युक्त फल देने वाला पौधा है । पीडी चित्रसेन  ने कहा कि बी0डी0ओ0 द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को  उज्ज्वला योजना से गैस कनेक्शन व सौभाग्य योजना से विद्युत कनेक्शन तथा स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत शौचालय अनिवार्य रूप से दिलाएं जाएं ।इस अवसर पर डीडीओ विकास, उपायुक्त एन आर एल एम ,समस्त खंड विकास अधिकारी ,सहायक अभियंता लघु सिंचाई ,अधिशासी अभियंता मौदहा बांध   सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।                              

2-फसल ऋण मोचन योजना के अंतर्गत  डिमांड जनरेट किए जाने हेतु जिला स्तरीय समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार कक्ष में संपन्न हुई ।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी ने ऋण मोचन योजना की प्रगति की समीक्षा की तथा हेल्प डेस्क से प्राप्त शिकायतों के त्वरित निस्तारण के निर्देश दिए। उन्होंने बैंकवार डाटा सत्यापन की प्रगति की भी समीक्षा की तथा कहा कि सभी बैंकों द्वारा शासनादेश के अनुसार कार्रवाई की जाए। इसमें कोई भी पात्र किसान योजना से छूटने ना पाए ।   इस अवसर पर उप निदेशक कृषि जेएम श्रीवास्तव, जिला कृषि अधिकारी, अपर जिला सूचना अधिकारी, लीड बैंक मैनेजर सहित समस्त बैंकर्स उपस्थित रहे।

 

Support to Swatantra Prabhat Media

T & C Privacy

Comments