इंग्लैंड से आगरा घूमने आये लोगो के साथ ठगी

बर्मिंघम- वोल्वरहैम्पटन से आगरा घूमने आये दो युवक परमिंदर ग्रेवाल एवं उनकेमित्र एंड्रू १३ अक्टूबर २०१८ को ताज का दीदार कर बापस ट्रैन से दिल्ली आ रहे थे जहा से उन्हें स्वर्ण मंदिर अमृतसर शताब्दी एक्सप्रेस से जाना था 

स्टेशनं डेरी से पहुंचने के कारण ट्रैन निकल गयी थी अतः उन्होंने किसी और ट्रैन से अमृतसर जाने का निश्चय किया स्टेशन के बुकिंग काउंटर पर उन्हें दो युबक होटल दिलानेके लिए कहने लगे काफी मना करनेके बाद भी जब वह न माने तो एक शर्त के साथ कि हम सिर्फ ३० रुपये लेंगे साथ ही आपको अच्छा होटल दिला देंगे और जबरदस्ती साथ ले गए इंडियन एक्सप्रेस हॉलीडेज जहा उनसे १५०० की  जगहब४००० बसूलेगये मैनेजर से जब रुपयों कि बापसी की मांग की गयी तो उनके साथ अभद्रता की गयी  सुबह होटल छोरनेके बाद जो रसीद दी गयी न उसमे रुपयों का जिक्र था ही नहीं उनका नाम लिखा गया, 


इस तरह पहाड़ गंज के होटलो मे दलालो के माध्यम से ठगीका व्यापार चलब रहा है जिसकी वजह से पर्यटकों के दिल में भारतके प्रति गलत छवि बनती  दिखाई दे रही है दिल्ली पुलिसकी मिली भगत से होटल व्यब्साई भी मालामाल हो रहेहै और सिपाही से लेकर दिल्ली पुलिस के SHO भी आईपीएस ऑफिसर  बन रहे है  GB रोड साथ मे है वहाँ से भी हराम की कमाई खा रहे है गरीब भिखारी धीन हीन विधवाओं को मारकर अपने आप को प्रमोट करवाना चाहा रहे है 

प्रशाशन से अनुरोध है कि होटल्स के लिए भी कुछ मानक तैयार किये जाए जिस से भविष्य में इस तरह के कटु अनुभवों  के साथ पर्यटकों  को बापस स्वदेश ना लौटना पड़े
शिकायत कर्ता= संजय शर्मा भारतीय नागरिक है एवं अब इंग्लैंड में रहकर प्रधानमंत्री नरेंद्र दामोदरदास मोदी की नीतियों से विश्वको प्रभावित कर रहे  है नवल शोध संस्थान के विदेश मामलो के 
प्रमुख है 

Loading...
Loading...

Comments