7वें एशियाफोर्ज 2019 की मेजबानी करेगा भारतीय फोर्जिंग उद्योग संघ

7वें एशियाफोर्ज 2019 की मेजबानी करेगा भारतीय फोर्जिंग उद्योग संघ

भारतीय फोर्जिंग उद्योग जगत के शीर्ष निकाय,भारतीय फोर्जिंग उद्योग संघ  ने चेन्नई में 7वें एशियाफोर्ज 2019 का पूरे उत्साह के साथ शुभारंभ किया।  सज्जन जिंदल जेएसडब्ल्यु समूह के अध्यक्ष एवं एमडी ने इस दो दिवसीय एशियाफोर्ज समारोह का उद्घाटन किया तथा आईआईटी मद्रास के प्रोफेसर डॉ. अशोक झुनझुनवाला ने उद्घाटन व्याख्यान प्रस्तुत किया। इस अवसर पर एशियाफोर्ज 2019 के मेजबान, एस. मुरलीशंकर,(अध्यक्ष व प्रतिनिधित्वकर्ता, भारतीय फोर्जिंग उद्योग संघ), आर शिवप्रसाद रेड्डी,(उपाध्यक्षए भारतीय फोर्जिंग उद्योग संघ) ,अभय राज कपूर,(संयोजक, एशिया फोर्ज 2019) तथा विकास बजाज, सह-संयोजक के साथ-साथ प्रबंधन समिति के सदस्य भी उपस्थित थे।

10 वर्षों के अंतराल के बाद 7वें एशियाफोर्ज के तौर पर एशियाफोर्ज की भारत में वापसी हुई है। पिछली बार वर्ष 2008 में AIFI ने दिल्ली में अंतर्राष्ट्रीय फोर्जिंग समुदाय के द्वितीय एशियाफोर्ज सम्मेलन की मेजबानी की थी।
वैश्विक फोर्जिंग उद्योग में नवीनतम प्रवृत्तियों को प्रदर्शित करने तथा प्रतिभागियों को दुनिया भर में फोर्जिंग उद्योग में हुई नवीनतम प्रगति एवं सर्वश्रेष्ठ कार्यप्रणाली के साथ कदम से कदम मिलाकर चलने का अवसर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से चेन्नई में आयोजित एशियाफोर्ज के 7वें संस्करण की रूपरेखा तैयार की गई है। यह भारतीय फोर्जिंग उद्योग के लिए अपनी तकनीकी क्षमता एवं नेटवर्क को प्रदर्शित करने तथा दुनिया भर के विशेषज्ञों के साथ बातचीत करने एवं अंतरराष्ट्रीय फोर्जिंग संघों के साथ अपने संबंधों को मजबूती देने का मौका प्रदान करने वाला एक आदर्श मंच है। 

इस अवसर पर AIFIके अध्यक्ष, एस. मुरलीशंकर ने कहा,"10 वर्षों के बाद भारत में 7वें एशियाफोर्ज की मेजबानी का मौका मिलना वास्तव में भारतीय फोर्जिंग उद्योग जगत के लिए बेहद महत्वपूर्ण घटना है। इस समारोह की मेजबानी के संदर्भ में हमारा उद्देश्य, कुछ श्रेष्ठतम कार्यप्रणालियों को मानदंड के तौर पर स्थापित किए जाने की अपेक्षा के साथ हमारे उद्योग को वैश्विक फोर्जिंग उद्योग की नवीनतम प्रवृत्तियों एवं प्रौद्योगिकियों से परिचित कराना तथा दुनिया भर के विशेषज्ञों के सामने भारत के तकनीकी कौशल एवं इंजीनियरिंग क्षमताओं को प्रदर्शित करना था। निश्चित तौर पर आने वाले वर्ष भारतीय फोर्जिंग उद्योग के लिए रोचक एवं चुनौतीपूर्ण होंगे तथा एशियाफोर्ज का यह मंच हमें भविष्य के अवसरों का लाभ उठाने हेतु तैयार रहने में मदद करेगा।"

Comments