प्रधान समर्थकों द्वारा आगजनी व तोड़फोड़ के बाद हुई मारपीट

प्रधान समर्थकों द्वारा आगजनी व तोड़फोड़ के बाद हुई मारपीट
रायबरेली।
महाराजगंज कोतवाली क्षेत्र के खैरहना ग्राम सभा में पंचायत चुनाव सम्पन्न होने के बाद हर्ष जताने को लेकर शुरू हुआ विवाद आगजनी और मारपीट तक जा पहुंचा।
         इस दौरान दुकान में तोड़फोड़ के साथ ही प्रधान और उसके समर्थकों ने बाइकों में आग लगा दी। जिसके बाद दोनों पक्ष आमने-सामने हो गए और जमकर मारपीट हुई। इस दौरान प्रधान पति को गंभीर चोटें आई हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने उपद्रवियों को खदेड़ कर माहौल को शांत कराया और मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी है। उधर घटना की सूचना पाकर अपर पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने मातहतों उभयपक्षों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।
विवरण के अनुसार खैरहना ग्राम सभा शुरू से ही विवादों के घेरे में चल रही है। चुनाव से पूर्व पोलिंग बूथ और मतदाता सूची में गड़बड़ी करवाने का आरोप ग्राम प्रधान पर लगा था। एसडीएम की जांच में मामला सही पाए जाने पर कई कर्मचारी निलंबित हुए थे। इस घटना के बाद से प्रशासन ने इस बूथ को संवेदनशील की श्रेणी में रखा था। बावजूद इसके सोमवार को चुनाव नतीजे के आने के बाद प्रधान समर्थकों द्वारा विजय जुलूस और हर्ष में आतिशबाजी की खबर आ गई। ग्रामीणों ने बताया कि रात को झखरी में छप्पर के पास प्रधान समर्थकों द्वारा आतिशबाजी की जा रही थी। जिससे पास में बंधे मवेशी भड़कने लगे और मकान मालिक ने ऐतराज जताया।
             इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में नोंक झोंक हुई जिसकी शिकायत 112 पर की गई। उसके बाद सुबह प्रधान ने अपने समर्थकों के साथ विपक्षीगणों की दुकान पर हमला कर दिया। इस दौरान तोड़ फोड़ और मोटर साइकिल में आगजनी भी की गई। इसी बात को लेकर दोनों पक्ष आमने-सामने हो गए और जमकर मारपीट हुई। इस दौरान प्रधान पति को घायलावस्था में सीएचसी में भर्ती कराया गया है। घटना की सूचना मिलते ही प्रभारी निरीक्षक रेखा सिंह भी मौके पर पहुंची उन्होंने उपद्रवियों को लाठी फटकार बाहर खदेड़ा और मामले में कार्रवाई शुरू कर दी है। उधर इस संबंध में अपर पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने मामले में उभयपक्षों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here