भवन निर्माण के बाद से नही खुल रहे केन्द्र में ताले

भवन-निर्माण-के-बाद-से-नही-खुल-रहे-केन्द्र-में-ताले,-राष्ट्रीय-पर्व-पर-ध्वजारोहण-के-लिए-ही-खोले-जाते-है-केन्द्र-के-ताले।

स्वतंत्र प्रभात

राष्ट्रीय पर्व पर ध्वजारोहण के लिए ही खोले जाते है केन्द्र के ताले

लॉक डाउन के पहले से नही खुल रहा आँगनबाड़ी केन्द्र : ग्रामीण

महमूदाबाद , सीतापुर। तहसील महमूदाबाद के ब्लॉक पहला की ग्राम पंचायत मेहरामऊ के बहादुरपुर गांव के पास बने आँगनबाड़ी केन्द्र बहादुरपुर मजरा मेहरामऊ ब्लॉक पहला सीतापुर में केन्द्र के ग्राउंड में गांव के कुछ लोग मौजूद  थे जिन लोगो से आँगनबाड़ी केन्द्र के सम्बंध में बात चीत की गई तो उन लोगो ने बताया कि जबसे हमारे क्षेत्र में यह केंद्र बनवाया गया है तब से इस केंद्र में कोई आता जाता ही नही है और एक अन्य ग्रामीण  ने बताया कि जब  26 जनवरी व 15 अगस्त आता है  तो आँगनबाड़ी केंद्र में तैनात कर्मचारियों सहित अन्य लोग ध्वजारोहण करने के समय तो केन्द्र पर नजर आते है फिर उसके बाद  यह खुलता ही नही है और वही पर मौजूद ग्रामीणों से जब पूछा गया कि आप लोग इसकी शिकायत ग्राम प्रधान सहित अन्य अधिकारियों से करते है कि नही  तो ग्रामीणों ने बताया कि  मेरे यहाँ ग्राम प्रधान गीता देवी रामाभारी निवासी है जो कि मेरे यहाँ से काफी दूर गांव है। इस लिए हम लोगो को वहां पैदल आने  जाने में काफी समस्या होती है और क्या छोटे बड़े अधिकारी इन छोटी बड़ी बातों पर ध्यान नही डाल सकते ।

वही पर केन्द्र के एक कमरे के अन्दर पड़े तख्त व बिस्तर के विषय मे जानकारी प्राप्त करना चाहा तो  ग्रामीणो ने कैमरे के सामने आने से मना कर दिया और चोरी से चल रही बिजली लाइन के तारो के सम्बंध में भी पूछा तो कुछ ग्रामीणों ने बताया कि पास में बने मन्दिर पर हार्न (बाजा) को बिजली से ही बजाया जाता है। और मन्दिर सहित आँगनबाड़ी केन्द्र पर बिजली से लाइट भी जलाई जाती है। इसका मतलब यह है कि कोई न कोई व्यक्ति  इस आँगन बाड़ी केन्द्र के अन्दर अपना निवास कर रहा है।अब यह तो जाँच पड़ताल कर जिम्मेदार अधिकारी ही सत्यापित कर सकते है कि बिजली की चोरी होती है या नही और केन्द्र के अन्दर पड़े तखत व कमरे के अन्दर ही बंधी रस्सी पर पड़े बिस्तर का क्या मतलब हो सकता है। ग्रामीणों ने मीडिया के माध्यम से सरकार से आँगनबाड़ी केंद्र को नियमानुसार खुलवाने की मांग कर आँगन बाड़ी केंद्र में तैनात कर्मचारियों व अधिकारियों के माध्यम से बच्चो व गर्भवती महिलाओं सहित अन्य लोगो को आंगनबाडी केंद्र से क्षेत्रीय लोगो मे मिलने वाले लाभ को प्रदान करवाने की बात कही ।