11 माह बाद राया पहुंची लोकल ट्रेन, किराया देख यात्री हुए बेचैन  

11 -माह -बाद- राया- पहुंची- लोकल ट्रेन, किराया -देख- यात्री -हुए -बेचैन  
-मथुरा से राया तक के लगेंगे 30 रूपये, अब तक 10 रूपये में होती थी यात्रा

मथुरा। कोरोना संकट के चलते करीब 11 महीना बाद राया रेलवे स्टेशन पर लोकल ट्रेन पहुंची। लोगों को ट्रेन संचालन का लम्बे समय से इंतजार था। ट्रेन चली लेकिन लोगों को खुशी कम और गम ज्यादा दे गई। नये सिरे से तय हुए किराये ने यात्रियों के चहरे पर तनाव ला दिया।  कोरोना काल से बन्द पड़ी रेलगाड़ियों का ग्यारह महीनों बाद रेलवे प्रसाशन द्वारा पुनः कासगंज अछनेरा मथुरा  अनारक्षित एक्सप्रेस विशेष गाड़ी का संचालन शुरू किया गया। कस्बा के गणमान्य लोगों ने स्टेशन पहुचकर ट्रेन चालक व गार्ड का माला पहना कर व मिठाई खिलाकर स्वागत किया।  गाड़ी संख्या 05347 कासगंज  अछनेरा अनारक्षित एक्सप्रेस विशेष ट्रेन कासगंज ने सुबह 5ः15 बजे अछनेरा के लिए प्रस्थान किया जो कि अपने निर्धारित समय 7ः14 पर राया स्टेशन पहुचीं थी।

स्टेशन मास्टर मोहन मीणा ने बताया कि ट्रेन में राया से मथुरा के लिए केवल एक ही यात्री ने टिकिट लेकर गाड़ी में यात्रा की वहीं सोनई स्टेशन से भी एक यात्री ने ट्रेन में मथुरा के लिए यात्रा की। पहला दिन होने के कारण यात्रियों की संख्या कम थी। वहीं अछनेरा से 12ः06 बजे राया स्टेशन पर ट्रेन के पहुंचने कस्बा के गणमान्य लोगों ने ट्रेन चालक व गार्ड का फूल मालाओं सहित मिष्ठान के साथ स्वागत किया इस दौरान राया अग्रवाल सभा के अध्यक्ष राजकुमार अग्रवाल स्टेशन मास्टर श्रीमोहन मीना रवि कुमार श्रीवास्तव आदि मौजूद थे।
राया से मथुरा के लिए प्रति यात्री 10 रुपये था तो वही राया से हाथरस के लिए भी 10 रुपये निर्धारित थे लेकिन अब 11 माह बाद जब ट्रेनों का संचालन शुरू किया गया है तो यात्रियों के लिए किराया तीन गुना लिया जा रहा है। जिससे ट्रेन से आवागमन करने वाले यात्रियों में किराए को लेकर मायूसी है लोगांे का मानना है किराया अधिक है उसे कम किया जाना चाहिए।