सिंचाई विभाग ने जीओ बैग डाल कटान रोकने का किया प्रयास

सिंचाई-विभाग-ने-जीओ-बैग-डाल-कटान-रोकने-का-किया-प्रयास


शुक्लागंज-उन्नाव।स्वतंत्र प्रभात ब्यूरो:-

गंगा का जलस्तर बढ़ने पर रविदास नगर बस्ती के सामने पिछले कई सालों से कटान रूक-रूक कर जारी है। इधर गंगा का जलस्तर बढ़ने लगा है जिससे कटान तेजी से शुरू हो गया है। बुधवार को सिंचाई विभाग ने कटान रोकने के लिये कटान स्थल पर नई तकनीक से जीओ बैग डालकर काटन रोकने का प्रयास किया है। जिससे इस बार कटान पर काबू पाया जा सकता है।रविदास नगर के सामने पिछले चार सालों से कटान हो रहा है। कटान रोकने के लिये सिंचाई विभाग हर साल बालू भरी बोरियां लगाता था। इसके साथ ही बल्लियां लगाकर पायलिंग का कार्य किया जाता था

लेकिन कटान नहीं रूकती थी। इस बार डीएम के निर्देश पर सिंचाई विभाग ने नई तकनीक से कटान रोकने का कार्य किया है। बुधवार को कटान रोकने में पच्चीस मीटर लंबा जीओ बैग लगाया गया है। जिसकी चार मीटर चैड़ाई है। बोरी की आकृति हाथीनुमा है। विभाग ने अब तक कटान स्थल पर सात पच्चीस मीटर लंबे जीओ बैग लगा चुका है। वहीं दो बैग लगाना अभी बाकी है। सिंचाई विभाग के अधिकारियों ने बताया कि पच्चीस मीटर लंबी जीओ बैग में मेट पंप से गंगा का पानी भरा जा रहा है। उसी के सहारे बैग मे ंबालू जा रही है,

बैग से पानी छन कर बाहर निकल रहा है तथा बैग में केवल बालू रह जाती है। जिससे बैग ठोस आकृति ले रहा है। सिंचाई विभाग का मानना है कि पच्चीस मीटर लंबी बैग कटान के किनारे लगाने से कटान रोकने में कामयाबी मिल जायेगी। गंगा की सीधी धारा बैग में टकरायेगी। जिससे कटान नहीं होगा।