नवनिर्मित एलिफेंटा पीट रिसोर्ट में गजल नाईट से गुलजार हुआ विटीआर

पर्यटन-नगरी-वाल्मीकिनगर-में-एक-बार-फिर-से-सैलानियों-के-चहल-पहल-व-विटीआर-स्थित-होटलों-में-तरह-तरह-के-नाईट-इवेंट्स-से-समा-बंधने-लगा-है।
पर्यटन-नगरी-वाल्मीकिनगर-में-एक-बार-फिर-से-सैलानियों-के-चहल-पहल-व-विटीआर-स्थित-होटलों-में-तरह-तरह-के-नाईट-इवेंट्स-से-समा-बंधने-लगा-है।
  • स्वतंत्र प्रभात
  • नसीम खान ‘क्या’

बगहा, प० चम्पारण। पर्यटन नगरी वाल्मीकिनगर में एक बार फिर से सैलानियों के चहलपहल व विटीआर स्थित होटलों में तरह तरह के नाईट इवेंट्स से समा बंधने लगा है। बतादें की कोरोना गाइड लाइन में हुए बदलाव के बाद से विटीआर में रौनक लौटने लगी है।

नए साल के आगमन पूर्व एक बार फ़िर पर्यटन नगरी वाल्मीकि टाईगर रिजर्व सैलानियों से गुलज़ार होने लगा है। इंडो नेपाल सीमा पर स्थित वाल्मिकीनगर अन्तर्गत बिसहा के एलीफेंटा पीट रिसॉर्ट में ग़ज़ल संध्या कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

जिसमें प्रसिद्ध ग़ज़ल गायिका रंजना झा और दिल्ली संगीत नाटय कला अकादमी के कौशिक मित्रा ने अपने ग़ज़ल गायकी से सैलानियों को मंत्र मुग्ध कर दिया। दरअसल वाल्मीकिनगर के ईको फ्रेंडली बम्बू हट में टूरिज्म डेवलपमेंट के क्षेत्र में।

युवा आशुतोष द्विवेदी की पहल पर बिहार के विभिन्न हिस्सों से निजी कंपनी के डिस्ट्रीब्यूटर पर्यटन नगरी पहुंचे। इस दौरान गोल्ड मेडलिस्ट ग़ज़ल गायक कौशिक मित्रा ने बिहार के इकलौते टाईगर रिजर्व की ख़ूबसूरती की जमकर सराहना की।

और कहा की सरकार के साथ साथ स्थानीय युवा भी पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए आगे आ रहें हैं,जो काबिले तारीफ़ है। वहीं ग़ज़ल गायिका रंजना झा ने कहा कि नव वर्ष के आगमन पूर्व यह आयोजन पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करेगा।

गजल नाईट से गुलजार हुआ विटीआर स्थित एलिफेंटा पीट रिसोर्ट

साथ ही उन्होंने आगे बताया कि पहली दफा वाल्मीकिनगर आकर वे काफी रोमांचित हैं और उन्होंने लोगों से एक बार यहां आकर प्रकृति के गोद में बसे रमणीक स्थलों के दीदार की अपील कि है।

ताकि पर्यटन को पंख लग सके ।बतातें चलें कि बिहार टूरिज्म ने वाल्मीकिनगर स्थित विटीआर को पर्यटन के लिए फिर से खोल दिया है। अब सैलानी बोटिंग सहित जंगल सफारी का लुत्फ उठाने लगे है।

सैलानियों के ठहरने के लिए सारी सुविधाओं से लैस रिसोर्ट का निर्माण किया जा रहा है। कई रिसोर्ट बनकर तैयार हो गए हैं । बतादूँ विटीआर में नवनिर्मित एलिफेंटा पीट रिसोर्ट,रॉयल वाल्मीकि रिसोर्ट व होटल बिहार सहित अन्य छोटे बड़े होटल व पब्लिक प्लेस, पर्यटकों की चहलपहल से विटीआर की वादियों में फिर से बहार लौटने लगी है।