तेरापंथ प्रोफेशनल फोरम की नई कार्यकारिणी का गठन, नॉर्थ ज़ोन की 7 शाखाओं के सदस्यों ने ली समाज सेवा की शपथ

0
111

‘हमारा संघ, हमारा दायित्व’ इसी प्रण को साकार करते हुए तेरापंथ प्रोफेशनल फोरम ने आज अपनी नॉर्थ ज़ोन की नई कार्यकारिणी का गठन किया.दिल्ली के अनुव्रत भवन में आयोजित भव्य कार्यक्रम में तेरापंथ प्रोफेशनल फोरम  के नए सदस्यों को 25 अक्टूबर को शपथ दिलाई गई.नॉर्थ ज़ोन के अंतर्गत भिवानी, दिल्ली, फरीदाबाद, गुड़गाँव, हिसार, नोएडा और पंजाब शाखा के सदस्यों ने समाज सेवा का प्रण लिया.

तेरापंथ प्रोफेशनल फोरम जैन समाज में सेवाभाव के साथ उनकी प्रतिभा को सही दिशा देता आया है. युवाओं को प्रोफेशनल और स्किल डेवेलपमेंट के माध्यम से समाज की मुख्यधारा से जोड़ने में टीपीएफ एक अहम भूमिका निभा रहा है.

तेरापंथ प्रोफेशनल फोरम एक NGO है जिसमें अलग अलग प्रोफेशन से लोग जुड़े हुए हैं. पूरे भारत से करीब साढ़े 5 हजार प्रोफेशनल्स ऐसे हैं जो इस संस्था के साथ जुड़े हैं जो सभी सिर्फ एक लक्ष्य के साथ काम करते हैं कि अपने समाज के लिए जो भी योगदान दे पाएं वो दिया जाए खासकर शिक्षा और मेडिकल विभाग में.समाज के लोगों का प्रोफेशल तौर पर विकास भी टीपीएफ का लक्ष्य है.

शिक्षा विभाग में जो मुख्य फोकस इस संस्था का है वो ये कि इस समाज का कोई भी बच्चा बिना पढ़ाई के ना रहे. अगर किसी के यहां पैसे का अभाव है जिस वजह से वो बच्चे पढ़ाई नहीं कर पा रहे हैं तो हम लोग उन बच्चों को पैसा मुहैया करवाते हैं और उन्हें प्रेरणा देते हैं कि वो अपनी पढ़ाई को बीच में छोड़े ना बल्कि उनकी पढ़ाई सुचारू रूप से चलती रहे. बच्चों के अलावा कोई और भी अपनी पढ़ाई आगे करना चाहता है जिंदगी में आगे बढ़ना चाहता है तो उसके लिए टीपीएफ ब्याज मुक्त ऋण भी मुहैया करवाता है

मेडिकल क्षेत्र में TPF काफी तेजी से काम कर रहा है. TPF की एक ATM Van चलती है जो शहर-शहर और गांव-गांव घूमकर जहां पर भी मेडिकल सुविधा की जरूरत है वहां लोगों को मेडिकल सहायता उपलब्ध करवाती है. Van में TPF के पास डेंटल चेकअप के साथ साथ आंखों के चेकअप की भी सुविधा है. ATM Van में पैथोलॉजी लैब भी है जिसमें लगभग हर तरह के टेस्ट किए जा सकते हैं. ये ATM Van इस वक्त राजस्थान में अपनी सेवाएं दे रही है. केरल में जिस वक्त बाढ़ आई थी तो ATM Van उस वक्त वहां मौजूद थी. नेपाल में जब भूकंप आया था उस वक्त भी TPF की ATM Van ने काफी शानदार काम किया था. हिमाचल प्रदेश और जम्मू कश्मीर में TPF और बड़े स्तर पर खुद को बढ़ा रहा है ताकि किसी भी जरूरतमंद की मदद की जा सके.

नॉर्थ जोन के अध्यक्ष पद पर नियुक्त किए गए श्री श्रील लुंकर ने बताया कि उन्हें इस संस्था के साथ जुड़कर काफी हर्ष महसूस हो रहा है. TPF के प्रोफेशनल्स के साथ जुड़कर समाज में श्रील लुंकर सकारात्मक बदलाव लाना चाहते हैं. लुंकर जी ने कहा कि दिल्ली, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हरियाणा के कई जिलों में TPF काफी अच्छा काम कर रहा है.

टीपीएफ के उपाध्यक्ष राजेश जैन ने कहा कि अगर आप समाज की सेवा करना कहते हैं तो आपका पहला भाव विसर्जन का होना चाहिए.और वो विसर्जन समय, धन या कार्य का भी हो सकता है.

राजेश जैन ने आगे कहा कि समाज में विसर्जन का काम तेरापंथ प्रोफेशनल फोरम पहले से ही कर रहा है.राजेश जैन ने इसी विसर्जन की भावना को आगे बढ़ाते हुए समाज सेवा के लिए 21,000 रुपये दान स्वरूप दिए.tpf को मिलने वाला पूरा दान हेल्थ और शिक्षा पर खर्च होता है

साथ ही राजेश जैन ने नॉर्थ जोन के अध्यक्ष पद पर नियुक्त किए गए श्री श्रील लुंकर से भी रूबरू कराया और तेरापंथ के बारे में बताया.राजेश जैन ने बताया कि तेरापंथ का मतलब है तुम्हारा हमारा हम सबका पंथ. राजेश जैन ने कहा, तेरा पंथ प्रोफेशनल फोरम में नॉर्थ जोन में बहुत सारे राज्य आते हैं जिनमें हरियाणा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश आते है. जिसका मतलब साफ है कि बहुत सारे राज्यों से टीम का गठन किया गया और उनके अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सेक्रेटरी भी जूम के माध्यम से इस शपथ ग्रहण समारोह में उपस्थित हुए साथ ही कई और सारे लोगों को सम्मिलित करके ये समारोह संपन्न कराया गया.राजेश जैन ने बताया कि ये बुद्धिजीवियों की एक सशक्त संस्था है जिनमें चार्टर्ड अकांउंटेंट, डॉक्टर्स, इंजीनियर्स, जज, IPS और IRS भी शामिल हैं.

गठित टीम में उपाध्यक्ष श्री राजेश जी, उपाध्यक्ष सीए ननदलाल जी, डॉ. अनिल जैन शामिल हैं. दिल्ली में डॉ. कांति कुमार श्याम सुखा जी को अध्यक्ष पद पर चुना गया है. जोन के मंत्री श्री हर्ष गोलेछा जी चुने गए हैं. इन सभी को संपत जी नहता ने शपथ दिलाई.

केसी जैन, श्री एमके दुग्गल को सलाहकार पद पर नियुक्त किया गया है.टीपीएफ के मेडिकल का काम डॉ. नीलेश गीड़िया देख रहे हैं

इस दौरान तेरापंथ प्रोफेशनल फोरम की नोएडा की अध्यक्ष पद पर नियुक्त हुईं आरती कोचर ने भी अपना संदेश लोगों तक पहुंचाने के लिए अपील की है..आरती कोचर ने कहा कि, हम सभी बहनें जो अपने परिवार की जिम्मेदारी इतनी अच्छी तरह संभाल रही हैं…मैं चाहती हूं कि वो अब अपने प्रोफेशनल करियर को भी अब संवारें और संघ को अपना योगदान दें..आरती जी ने आध्यात्मिक से भी प्रगति करने के लिए और समाज को आगे ले जाने के लिए भी महिलाओं से योगदान की अपील की है..