कोविड-19: 24 घंटे में स्वस्थ हुए 23,600 से ज़्यादा लोग

कोविड-19:-24-घंटे-में-स्वस्थ-हुए-23,600-से-ज़्यादा-लोग

केंद्र और राज्य सरकारों के ज्यादा परीक्षण और समयबद्ध निदान जैसे सक्रिय उपायों से जल्द से जल्द मामले पता लगाने में सहायता मिली है. स्टैंडर्ड ऑफ केयर प्रोटोकॉल के बेहतर क्रियान्वयन के माध्यम से मध्यम और गंभीर मामलों के प्रभावी नैदानिकी प्रबंधन से कोविड मरीजों के स्वस्थ होने की ऊंची दर सुनिश्चित हुई है. पिछले 24 घंटों के दौरान स्वस्थ होने वाले कोविड मरीजों की संख्या बढ़कर 23,672 हो गई.

स्वस्थ होने वाले मरीजों और कोविड-19 के सक्रिय मामलों के बीच अंतर बढ़कर 3,04,043 हो गया है. अब तक कुल 6,77,422 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. वहीं 3,73,379 सक्रिय मरीजों को अस्पतालों में और होम आइसोलेशन में चिकित्सा उपलब्ध कराई जा रही है.

देश में परीक्षण सुविधाओं में खासी बढोतरी दर्ज की गई है. आईसीएमआर द्वारा सुझाई गई परीक्षण रणनीति के तहत अब सभी पंजीकृत चिकित्सा विशेषज्ञ जांच की सिफारिश कर सकते हैं. राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा गोल्ड स्टैंडर्ड आरटी-पीसीआर आधारित व्यापक परीक्षण के साथ रैपिड एंटीजन प्वाइंट ऑफ केयर (पीओसी) जांच के परिणाम स्वरूप नमूनों की जांच में खासी बढोतरी हुई है. कुल 1,37,91,869 नमूनों के परीक्षण के साथ भारत में प्रति मिलियन (टीपीएम) परीक्षण का आंकड़ा 9,994.1 तक पहुंच गया.

नैदानिक प्रयोगशाला नेटववर्क की संख्या बढ़कर 1,262 प्रयोगशालाओं तक पहुंच गई, जिनमें 889 प्रयोगशालाएं सरकारी और 373 निजी क्षेत्र की हैं.