कोरोना: कैराना में स्वास्थ्य महकमे का विशेष आॅपरेशन शुरू, लगाई 30 टीमें

– दुबई से लौटा युवक पाया गया था कोरोना पॉजीटिव

– विदेशों से आए लोगों की जांच-पड़ताल में जुटी टीमें

शामली कैराना। दुबई से लौटे युवक के कोरोना पॉजीटिव मिलने पर स्वास्थ्य विभाग की नींद उड़ गई है। स्वास्थ्य विभाग की ओर से विशेष आॅपरेशन शुरू किया गया है। इसके लिए 30 टीमों को लगाया गया है। राजस्व टीम भी सर्वे कार्य में जुटी हुई है। आॅपरेशन के दौरान किसी संदिग्ध के मिलने की कोई सूचना नहीं मिली है।   कैराना निवासी युवक को कोरोना पॉजीटिव की पुष्टि हुई है। युवक हाल ही में दुबई से लौटा था। मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा युवक, पत्नी व तीन बच्चोंं तथा उसके मकान में रहने वाली महिला एवं उसकी बेटी को आइसोलेट किया गया है। उनकी भी जांच चल रही है। वहीं, कोरोना का पॉजीटिव केस मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। कोरोना की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग ने विशेष आॅपरेशन शुरू कर दिया है।

आॅपरेशन के लिए बुधवार को 30 टीमें गठित की गई है। स्वास्थ्य विभाग के अलावा राजस्व विभाग की टीम को भी इसमें शामिल हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम जहां डोर-टू-डोर जाकर संदिग्ध लोगों की जांच और उनसे पूछताछ कर रही है, वहीं राजस्व टीम सर्वे कार्य में जुटी हुई है। चिकित्साधीक्षक डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि 30 टीमों को जांच के लिए लगाया गया है। स्वास्थ्य विभाग की दो सदस्यीय टीम में एएनएम व आशा शामिल हैं। जबकि राजस्व विभाग की टीम भी लगाई गई है। उन्होंने बताया कि टीमों द्वारा घर-घर जाकर ऐसे लोगों की जांच की जा रही है, जो विदेश से आए हों। आस-पड़ोस के लोगों से भी संदिग्ध लोगों के बारे मेंं जानकारी जुटाई जा रही है। चिकित्साधीक्षक ने बताया कि फिलहाल कोई संदिग्ध नहीं मिला है। यदि कोई संदिग्ध मिलता है, तो तत्काल उसकी जांच कराई जाएगी।

—डब्ल्यूएचओ की टीम कर रही मॉनीटरिंगकोरोना पॉजीटिव केस मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है। डब्ल्यूएचओ की टीम ने कैराना में डेरा डाल लिया है। टीम द्वारा क्षेत्र में संदिग्ध लोगों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है। चिकित्साधीक्षक ने बताया कि सीएचसी में पहुंची डब्ल्यूएचओ की टीम मॉनीटरिंग कर रही है। डब्ल्यूएचओ की टीम ने विशेष आॅपरेशन में लगी टीमों को भी आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं।

—अभी नहीं आई परिवार की जांच रिपोर्टस्वास्थ्य विभाग की ओर से कोरोना पॉजीटिव युवक को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है। उसके पूरे परिवार को भी शामली सीएचसी में शिफ्ट किया गया है। स्वास्थ्य विभाग ने युवक की पत्नी, तीनों बच्चों के अलावा मकान में रहने वाली की किराएदार महिला तथा उसकी पुत्री के जांच हेतु सैंपल भेज दिए हैं। चिकित्साधीक्षक डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि जांच रिपोर्ट आने में तीन-चार दिन लग जाते हैं। जांच के लिए सैंपल भेेजे गए हैं। अभी तक किसी की रिपोर्ट नहीं आई है।

—मोहल्ले में सन्नाटा, फॉगिंग और छिड़कावयुवक के कोरोना पॉजीटिव मिलने पर स्वास्थ्य विभाग ही नहीं, बल्कि नगरपालिका की टीम भी लगी हुई है। बुधवार को लगातार दूसरे दिन भी नगरपालिका की ओर से पूरे मोहल्ले में विशेष सफाई अभियान चलाया गया। फॉगिंग कराई गई और सैनिटाइज हेतु छिड़काव कराया गया है। लोगों से बेवजह घरों से बाहर न निकलने और सावधानी बरतने की अपील की जा रही है।

—युवक के मेल-जोल वालों की तलाशकोरोना पॉजीटिव मिला युवक 15 मार्च को दुबई से अपने घर लौटा था। 20 तारीख में उसका सैंपल लिया गया गया था। 24 तारीख को कोरोना पॉजीटिव की पुष्टि होने के बाद उसे आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया। इस दौरान युवक अपने मेल-जोल के लोगों से भी मिला होगा। ऐसे लोगों की भी स्वास्थ्य विभाग की ओर से तलाश की जा रही है, ताकि उनकी भी जांच कराई जा सके।

—दूसरे स्थान पर शिफ्ट किया आइसोलेशन वार्डकोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र कैराना पर भी आइसोलेशन वार्ड बनाया गया था। अस्पताल परिसर में एक्स-रे रूम के पास बनाए गए इस वार्ड में करीब आधा दर्जन बैड की व्यवस्था की गई थी। एक दिन पूर्व कैराना में युवक के कोरोना पॉजीटिव मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने आइसोलेशन वार्ड को अस्पताल गेट के निकट टीबी विभाग में शिफ्ट कर दिया गया है। यहां पर बैड भी डलवा दिए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here