दोबारा हो सकता है कोरोना संक्रमण, लेकिन ऐसे मामले बहुत कम: आईसीएमआर

दोबारा हो सकता है कोरोना संक्रमण, लेकिन ऐसे मामले बहुत कम: आईसीएमआर

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के महानिदेशक ने मंगलवार को माना कि कोरोना का संक्रमण दोबारा हो सकता है. उन्होंने ये भी कहा कि मीजल्स को लेकर मान्यता थी कि दोबारा इंफेक्शन नहीं होता है लेकिन बाद में देखा गया कि उसमें भी दोबारा संक्रमण का खतरा होता है.

कोरोना को लेकर कई तरह की आशंकाएं और संशय बरकरार हैं. सबसे बड़ा कन्फ्यूजन इस बात को लेकर था कि कोरोना से ठीक होने बाद क्या किसी को दोबारा कोरोना का संक्रमण हो सकता है? लेकिन मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रेस कॉन्फ्रेंस में इंडियन कॉउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च के महानिदेशक बलराम भार्गव ने कहा कि कोविड में रीइन्फेक्शन हो सकता है लेकिन ऐसे केस दुर्लभ हैं.

दिल्ली में भी दोबारा संक्रमण के कुछ मामले सामने आए हैं. दिल्ली पुलिस में इंस्पेक्टर, नर्स, दिल्ली के विधायक और कुछ अन्य में भी दोबारा संक्रमण पाया गया. ये भी देखा गया कि कोरोना से ठीक होने वाले लोगों में स्वास्थ्य से जुड़ी दिक्कतें भी आ रही हैं. लेकिन ऐसे लोगों की कितनी तादात है, इसका आंकड़ा सरकार के पास फिलहाल नहीं है.

यानि कि अगर कोई कोरोना के संक्रमण से ठीक हुआ और ये मानकर निश्चिन्त हो जाए कि उसे दोबारा संक्रमण नहीं होगा, तो ये उसकी गलतफहमी होगी. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक संक्रमण से ठीक होने पर भी सावधानी में किसी तरह की कोताही नहीं बरतनी चाहिए.