प्रधानमंत्री ड्रीम प्रोजेक्ट योजना, स्वच्छ भारत मिशन चढ़ा भ्रष्टाचार की भेंट

ग्राम पंचायत बेमिहा में प्रधानमंत्री ड्रीम प्रोजेक्ट योजना स्वच्छ भारत मिशन चढ़ा भ्रष्टाचार की भेंट

ग्राम प्रधान व सचिव पर ग्रामीणों ने लगाया कई लाख रुपया गबन करने का आरोप

स्वतंत्र प्रभात

ब्यूरो रिपोर्ट बलरामपुर

बलरामपुर पचपेड़वा आपको बताते चलें कि प्रधानमंत्री ड्रीम प्रोजेक्ट स्वच्छ भारत मिशन के तहत गांव गांव में हर एक घर में शौचालय उपलब्ध कराया जा रहा है जिससे स्वच्छ भारत मिशन का सपना साकार हो सके वहीं पर प्राप्त समाचार के अनुसार विकासखंड पचपेड़वा के अंतर्गत ग्राम पंचायत बेमीहा में शौचालय घोटाला कम होने का नाम ही नहीं ले रहा है ग्राम पंचायत बेमीहा में ग्राम प्रधान व पंचायत के सचिव द्वारा मिलकर शौचालय के पैसे का गमन किया जा रहा है

कुछ शौचालय ग्रामीण अपने पास से पैसे लगाकर स्वयं को बनवाए हैं जिसका फोटो भी ले लिया गया है लेकिन लगभग 1 वर्ष पूरा हो जाने के बाद भी लाभार्थियों को चेक ना देकर सचिव ने स्वयं को भुगतान कर लिया है जब कि प्रत्येक शौचालय लाभार्थी को सरकार द्वारा ₹12000 शौचालय निर्माण हेतु दिया जाता है जो शौचालय ग्राम प्रधान व सचिव ने बनवाया है एक भी शौचालय गांव में बरसों बीत जाने के बाद भी पूर्ण नहीं है

सभी शौचालय आधे अधूरे पड़े हुए हैं जिससे ग्रामीणों को मजबूर होकर सोच के लिए बाहर जाना पड़ता है वहीं पर ग्रामीणों की माने तो ग्रामीण शाहिद रजा सहित 4 दर्जन से अधिक लोगों का कहना है कि वह मुख्यमंत्री पोर्टल से लेकर मुख्य विकास अधिकारी तक शिकायत कर चुके हैं लेकिन आज तक का कार्रवाई तो दूर की बात है गांव में कोई अधिकारी जांच करने भी नहीं आए

इससे साफ जाहिर हो रहा है कि प्रधानमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट स्वच्छ भारत मिशन को फेल करने में जिले के उच्च अधिकारियों का भी सहयोग भरपूर मिल रहा है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here