स्कूल खुलते ही खिल उठे बच्चों के चेहरे,शिक्षकों ने जाहिर की प्रसन्नता

खाना- बनाते- समय- गिरी -गर्म दाल युवती -गंभीर -रूप -से- हुई- घायल

स्वतंत्र प्रभात
अम्बेडकर नगर। देश में फैली वैश्विक महामारी कोरोना काल के संकट में स्कूलों का संचालन थम सा गया था।कोरोना कॉल के 1 साल बाद प्रदेश भर में परिषदीय विद्यालय के पुनः संचालन के लिए शासन ने फरमान जारी कर दिया। तो वही बच्चों के चेहरे पर मुस्कान लौट

आई।परिषदीय विद्यालयों को कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए 1 मार्च को बेसिक शिक्षा विभाग में स्कूलों में कक्षा 1 से 5 तक की कक्षाओं का संचालन के लिए दिशा-निर्देश में प्राथमिक विद्यालय शेखपुरा राजकुमारी जलालपुर को बेहतरीन ढंग से साज सज्जा के साथ बच्चों के लिए सजाया गया।बताते चलें कि कोरोना काल के कारण मार्च 2020 के दूसरे सप्ताह से परिषदीय विद्यालयों का संचालन पूर्ण रुप से बंद हो गया था। तो वही 10 फरवरी 2021 से बेसिक शिक्षा विभाग में परिषदीय स्कूलों में कक्षा 6 से 8 तक की कक्षाओं का संचालन शुरू कर दिया गया।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेशानुसार 1 मार्च से परिषदीय स्कूलों में कक्षा 1 से 5 तक की कक्षाओं का सुचारू रूप से पठन-पाठन कार्य शुरू किया गया।एक लंबा समय व्यतीत करने के बाद बच्चों के विद्यालय में पुनः वापसी पर प्राथमिक विद्यालय शेखपुरा राजकुमारी के प्रभारी प्रधानाध्यापक अफसाना बानो के कुशल नेतृत्व में और स्टाफ के कड़ी मेहनत से विद्यालय परिसर को सजाया गया और फिर बच्चों का भव्य तरीके से स्वागत किया गया।

विद्यालय के जिम्मेदारान द्वारा आस-पास के गांव में सोशल मीडिया और जनसंपर्क कर बच्चों के अभिभावकों को स्कूल नियमित शासनादेश के अनुसार खुलने की पूर्ण रूप से जानकारी दी गई। अभिभावकों से निवेदन करते हुए बच्चों को स्कूल में समयानुसार भेजने के लिए प्रेरित किया गया।विद्यालय में चित्र -कलाओं का प्रदर्शन, रंग-बिरंगे रंगों का प्रयोग, गुब्बारों,झंडियों के साथ विद्यालय का रंग रोगन किया गया।और बच्चों का मुह भी मीठा कराने का काम किया गया।

तदोपरांत शासनादेश के अनुसार सोमवार को निर्धारित प्रार्थना कराया गया। उसी क्रम में कक्षाओं का संचालन और फिर बच्चों के लिए मध्यान्ह भोजन का दौर चला,मध्यान भोजन को पहले प्रधानाचार्य एवं समस्त स्टाफ द्वारा ग्रहण कर उसकी गुणवत्ता को परखा गया। फिर बच्चों को भोजन वितरण किया गया।पुनः कक्षाओं का संचालन करते हुए बच्चों के खेल-कूद ,गीत-संगीत पर कार्य करते हुए मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष रूप से ध्यान रखते हुए पहले दिन की पूरी क्रियाकलाप बहुत ही बेहतरीन ढंग से संपन्न हुआ।

इस दौरान बच्चों के अभिभावकों ने भी विद्यालय में पहुंचकर सब नजारा अपनी आंखों से देखा और प्रसन्न मुद्रा में बच्चों के उज्जवल भविष्य की कामना किया।प्रभारी प्रधानाध्यापक अफसाना बानो के साथ अध्यापकगण सर्वेश कुमार गुप्ता ,सोनी गुप्ता, विमला देवी ,अलका सिंह एवं रसोईया और सफाई कर्मचारी मौजूद रहे।