तालाब में नहाते वक्त युवक की डूबकर मौत के मामले में आया नया मोड़

पुलिस अधीक्षक से पीड़िता ने लगाई न्याय की गुहार भीटी अम्बेडकरनगर। स्थानीय थाना क्षेत्र महरुआ निवासी जलालपुर सेहरा युवक की 16 अगस्त के दिन तालाब में नहाते वक्त डूबकर मौत के मामले में नया मोड़ आ गया हैं। युवक की मां संध्या देवी ने पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देते हुए आरोप लगाया है कि

पुलिस अधीक्षक से पीड़िता ने लगाई न्याय की गुहार

भीटी अम्बेडकरनगर। स्थानीय थाना क्षेत्र महरुआ निवासी जलालपुर सेहरा युवक की 16 अगस्त के दिन तालाब में नहाते वक्त डूबकर मौत के मामले में नया मोड़ आ गया हैं। युवक की मां संध्या देवी ने पुलिस अधीक्षक को शिकायती पत्र देते हुए आरोप लगाया है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में तालाब में डूब कर मौत की पुष्टि नही हैं बल्कि रिपोर्ट में मौत का कारण अज्ञात होने पर पटीदार के द्वारा जमीनी रंजिश को लेकर बेटे को मार देने का आरोप लगाते हुए एफ आई आर दर्ज कराने की मांग की है।पीड़िता का आरोप है कि उसके घर वालों का पटीदार अमर बहादुर चैबे के मध्य जमीनी रंजिश चल रही पीड़िता का एक पटीदार सुखसिन्ध जिसका लड़का ऋषभ उसके घर आया जाया करता था परंतु वह विपक्षी पटीदार अमर बहादुर से मिला हुआ था पीड़िता का आरोप है कि अमर बहादुर व गीता देवी पत्नी विजय प्रकाश व ऋषभ निवासी हीडी पकड़िया खड़यंत्र बनाते हुए उसके घर आया और दिनांक 16 अगस्त को सुबह 9रू00 बजे उसके लड़के राजमंगल को अपने घर दावत खिलाने के बहाने ले गया उस समय पीड़िता घर पर मौजूद थी रिश्तेदार होने के कारण उसकी ननंद माधुरी देवी भी सुखसिन्ध के घर चली गई थी। ऋषभ के साथ चार अज्ञात युवकों ने घर से बाहर उनके लड़के को खाना खिलाया और उसके बाद कहीं लेकर चले गए दिन में लगभग 1 बजे उसके देवर राकेश कुमार के मोबाइल पर फोन आया कि राज मंगल तालाब में डूब गया है उसके ठीक 15 मिनट बाद पुनः सुखसिन्ध ने फोन किया कि हम लोग जिला अस्पताल अकबरपुर में हैं राज मंगल की तालाब में डूबने से मृत्यु हो गई है। पीड़िता के पति और देवर जब जिला अस्पताल पहुंचे तो देखा कि राजमंगल की लाश पड़ी हुई थी। वहां मौके पर ऋषभ व अन्य तमाम लोग उपस्थित थे ऋषभ राजमंगल की तालाब में डूब जाने से मौत की बात बता रहा था परंतु शव को देखने में तालाब में डूबने से मृत्यु के लक्षण नहीं दिखाई दे रहे थे। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर पूरी तरीके से स्पष्ट हो गया की उसके बेटे की मृत्यु किसी अन्य कारण से हुई हैं। पीड़िता का आरोप है की घटना के 1 सप्ताह पूर्व पटीदार से जमीनी विवाद हुआ था जिसमें महरुआ थानाध्यक्ष ने पीड़िता के पति का 151 में चालान भी किया था। जमीनी रंजिश के चलते पटीदार के द्वारा उसके बेटे की मौत की साजिश रची गई थी और वह उसमें कामयाब भी हो गये। पीड़िता ने पुलिस अधीक्षक से मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी पुलिस अधीक्षक के आदेश के बाद भी अभी तक महरुआ थाने में पीड़िता का मुकदमा पंजीकृत नहीं हो सका।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

संसद भवन परिसर से स्वतंत्रता सेनानियों की मूर्तियों को शिफ्ट करने को लेकर भडका विपक्ष संसद भवन परिसर से स्वतंत्रता सेनानियों की मूर्तियों को शिफ्ट करने को लेकर भडका विपक्ष
स्वतंत्र प्रभात। एसडी सेठी। संसद भवन परिसर में लगी स्वतंत्रता सेनानियों की मूर्तियों को शिफ्ट किया जा रहा है। इस...

अंतर्राष्ट्रीय

Italy में मेलोनी ने की खास तैयारी जी-7 दिखेगी मोदी 3.0 की धमक Italy में मेलोनी ने की खास तैयारी जी-7 दिखेगी मोदी 3.0 की धमक
International Desk इटली की प्रधानमंत्री जार्जिया मेलोनी के निमंत्रण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 जून को 50वें जी-7 शिखर सम्मेलन...

Online Channel