सड़क हादसे में लावारिस युवकों के लिए देवदूत बनी एनडीआरएफ की टीम

स्वतंत्र प्रभात शैलेष यदुवंशी,खड्डा, कुशीनगर। हादसें में घायलों तीन युवकों के लिए एनडीआरएफ की टीम बनी देवदूत,बाइक सवार युवकों को ठोकर मार बोलोरो हो गई थी फरार लवारिस हालात में घायल अवस्था में रोड के किनारे मरणासन्न गिरे पड़े थे। खड्डा क्षेत्र में बाढ़ राहत बचाव कार्य के लिए वाराणसी से आई ग्यारहवी वाहिनी एनडीआरएफ

स्वतंत्र प्रभात

शैलेष यदुवंशी,खड्डा, कुशीनगर।

हादसें में घायलों तीन युवकों के लिए एनडीआरएफ की टीम बनी देवदूत,बाइक सवार युवकों को ठोकर मार बोलोरो हो गई थी फरार लवारिस हालात में घायल अवस्था में  रोड के किनारे मरणासन्न गिरे पड़े थे।

खड्डा क्षेत्र में बाढ़ राहत बचाव कार्य के लिए वाराणसी से आई ग्यारहवी वाहिनी एनडीआरएफ टीम उस समय देवदूत बनकर सामने आई। जब खड्डा क्षेत्र के भुजौली पोखरा के पास एक बाइक एक्सीडेंट में घायल तीन युवक इलाज के अभाव में दम तोड़ने रहे थे।
 इसी दौरान उसी रास्ते गुजर रही एनडीआरफ की टीम की नजर घायलों पर पड़ी और तत्काल गाड़ी रोक प्राथमिक इलाज किया तथा एम्बुलेंस बुला कर इलाज के लिए सीएचसी तुर्कहा भेजवाया।

ज्ञात हो सोमवार की दोपहर बाद हनुमानगंज थाना क्षेत्र के तिनपरसा गांव निवासी बांका कुशवाहा,शंभू कुशवाहा और जितेंद्र कुशवाहा बाइक से खड्डा से नेबुआ की ओर जा रहे थे।
इसी दौरान भुजौली पोखरा के समीप खड्डा की ओर से ही जा रहे एक तेज रफ्तार अज्ञात बोलोरो ठोकर मार फरार हो गया जिससे तीनों गंभीर रूप से घायल हो गए।

तो वही जिलाधिकारी से बाढ़ ग्रस्त एरिया के बारे में चर्चा कर पडरौना से टीम कमांडर इंस्पेक्टर दिनकर त्रिपाठी सदल खड्डा लौट रहे थे कि रास्ते में तीन  व्यक्ति गंभीर रूप से घायल देख फौरन रुककर त्वरित कार्रवाई करते हुए घायलों को अस्पताल जाने से पूर्व का चिकित्सा दिया।

जिसमें नर्सिंग असिस्टेंट रमेश कुमार यादव ने अहम भूमिका निभाई टीम में सब इंस्पेक्टर चंदन सिंह और आरक्षी विजय पासवान ने अपना योगदान दिया।तो वही एनडीआरफ टीम के इस कार्य की चहुँओर प्रसंशा हो रही हैं।

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel