बुद्ध तपस्थली को राम वन गमन पथ से जोड़े जाने की मांग को लेकर सड़क पर उतरे सकिपा कार्यकर्ता, प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

बुद्ध तपस्थली को राम वन गमन पथ से जोड़े जाने की मांग को लेकर सड़क पर उतरे सकिपा कार्यकर्ता, प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

 कौशाम्बी। जिला मुख्यालय पर समर्थ किसान पार्टी के तत्वावधान में सोमवार 10 जून को पार्टी के तमाम कार्यकर्ताओं ने सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया और नारेबाजी करते हुए एडीएम अरुण कुमार गोंड के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक सात सूत्रीय ज्ञापन भेजा। भेजे गए ज्ञापन के माध्यम से प्रयागराज से बुद्ध तपस्थली तक निर्माणाधीन बौद्घ सर्किट को विस्तार कर राम वन गमन पथ से जोड़े जाने की मांग की गई।
 
सोमवार को समर्थ किसान पार्टी के दर्जनों कार्यकर्ता एवं पदाधिकारी डायट मैदान मंझनपुर में एकजुट हुए और बैठक की। बैठक में बोलते हुए पार्टी नेता एवं जिला पंचायत सदस्य अजय सोनी ने प्रदेश सरकार से मांग उठाई कि बुद्ध तपस्थली कौशाम्बी तक निर्माणाधीन बौद्ध सर्किट को विस्तार कर राम वन गमन पथ से जोड़ा जाए ताकि राम वन गमन पथ होकर बौद्ध सर्किट बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे से जुड़ सके और उन्होंने कहा कि इससे बुद्ध तपस्थली कौशाम्बी खास आने वाले देशी विदेशी पर्यटकों को भारी सहूलियत होगी और उनकी संख्या में भारी इजाफा होगा। साथ ही इससे चित्रकूट से प्रयागराज और प्रयागराज से चित्रकूट आवागमन करने वाले लोगों को भारी सहूलियत होगी और बुद्ध तपस्थली कौशाम्बी पर्यटन का हब बनेगा। स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा एवं यमुना के पिछड़े तराई क्षेत्र का विकास होगा साथ ही सरकार को राजस्व में भारी वृद्धि होगी।
 
आगे कहा कि बौद्ध सर्किट कौशाम्बी से राम वन गमन पथ की कुल दूरी मात्र 30 किमी है। अगर बौद्ध सर्किट को 30 किमी और विस्तारित कर इसे राम वन गमन पथ से जोड़ दिया जाए तो निश्चित रूप से बौद्ध सर्किट, राम वन गमन पथ एवं बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे एक सूत्र में जुड़ जायेंगे और समूचा कौशाम्बी परिक्षेत्र पर्यटन का हब बन जायेगा।
 
इसी तरह बैठक में पार्टी नेता विनोद सरोज ने कहा कि बुद्ध तपस्थली कौशाम्बी स्थित बौद्ध सर्किट को राम वन गमन पथ से जोड़ने से प्रयागराज और चित्रकूट आने जाने वाले पर्यटकों को बुद्ध तपस्थली कौशाम्बी होकर गुजरना होगा जिससे इसकी पहचान में वृद्धि होगी और कौशाम्बी की पहचान एवं सम्मान देश विदेश में बढ़ेगी जिससे और अधिक संख्या में बौद्घ एवं जैन धर्म के मानने वाले लोग यहां आएंगे।
बैठक के बाद सभी कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों ने जुलूस की शक्ल में जिला कलक्ट्रेट मंझनपुर पहुंचकर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को संबोधित एक सात सूत्रीय ज्ञापन एडीएम अरुण कुमार गोंड को सौपा।
 
सौपे गए ज्ञापन में बौद्ध सर्किट कौशाम्बी खास को राम वन गमन पथ से जोड़े जाने की मांग की गई।इस अवसर पर प्रेमचंद्र केसरवानी, मुन्ना लाल तिवारी, विकास कसेरा, सुरजीत वर्मा, फूलचंद्र लोधी, राजेश यादव, भैरव प्रसाद गौतम, दिलीप गौतम, तेज बहादुर सिंह, बद्री प्रसाद प्रजापति, मुन्ना पटेल, भगवान दास वर्मा, मो सारुख, जुम्मन अली आदि मौजूद रहे।
 
 

About The Author

Post Comment

Comment List

आपका शहर

संसद भवन परिसर से स्वतंत्रता सेनानियों की मूर्तियों को शिफ्ट करने को लेकर भडका विपक्ष संसद भवन परिसर से स्वतंत्रता सेनानियों की मूर्तियों को शिफ्ट करने को लेकर भडका विपक्ष
स्वतंत्र प्रभात। एसडी सेठी। संसद भवन परिसर में लगी स्वतंत्रता सेनानियों की मूर्तियों को शिफ्ट किया जा रहा है। इस...

अंतर्राष्ट्रीय

Italy में मेलोनी ने की खास तैयारी जी-7 दिखेगी मोदी 3.0 की धमक Italy में मेलोनी ने की खास तैयारी जी-7 दिखेगी मोदी 3.0 की धमक
International Desk इटली की प्रधानमंत्री जार्जिया मेलोनी के निमंत्रण पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 जून को 50वें जी-7 शिखर सम्मेलन...

Online Channel