थर्ड डिग्री प्रयोग करने के बाद युवक को चार दिन बाद छोड़ा गया, आखिर क्यों

थर्ड डिग्री प्रयोग करने के बाद युवक को चार दिन बाद छोड़ा गया, आखिर क्यों

जाकर उसे उसके घर इस शर्त पर छोड़ आई कि वह कल फिर से 11 बजे थाने में हाज़िरी देगा, कल इसी संबंध में नेताओ व


स्वतंत्र प्रभात 
 


महमूदाबाद सीतापुर सीतापुर विगत दिनों महमूदाबाद के एक व्यापारी के घर से लाखों की हुई चोरी के मामले में पुलिस शायद अंधेरे में ही तीर मार रही है, जबकि संदेह के तौर पर लाये गए युवक को चार दिन तक थाने में बिठा रखा गया था, जिसे कल रात लगभग 12 बजे पुलिस खुद जाकर उसे उसके घर इस शर्त पर छोड़ आई कि वह कल फिर से 11 बजे थाने में हाज़िरी देगा, कल इसी संबंध में नेताओ व

 व्यापारियों के थाने पहुंचने के बाद ग्राम गुलरामऊ से लाये गए एक युवक को पूछताछ के थोड़ी ही देर बाद छोड़ दिया गया।प्राप्त जानकारी के अनुसार अपने बच्चे का महमूदाबाद से कलकत्ता मुण्डन कराने गए एक धनाढ्य व्यापारी जिनका मकान महमूदाबाद के प्रसिद्ध जायसवाल मार्किट के नाम से जाना जाता है, जिसमे कई दुकानें लोगों ने किराए पर ले रखी है। उनके मकान में गत दिनों लाखों रुपये के गहने चोरी हो गए 

यह बात व्यापारी विजय जायसवाल को उस वक़्त पता चली जब वह मुंडन कराने के पश्चात अपने घर लौटे। बताया जाता है कि जब उन्होंने अपने मकान के कमरे का दरवाजा खोला तो देखा कि उनकी अलमारी खुली हुई पड़ी थी और उसमें से गहने गायब थे, विजय जायसवाल के मुताबिक जो गहने चोरी हुए है उनकी कीमत लाखों में है, चोरी की घटना की जानकारी जब पुलिस को हुई तो मौके पर तत्काल दो सिपाही पहुचे। 

मौके पर देखा गया कि अलमारी खुली हुई थी, और अलमारी को देखने से ऐसा प्रतीत हो रहा था कि उसके साथ कोई छेड़छाड़ नही की गई और न ही कहीं दीवाल आदि ही काटी गई थी, और तो और दरवाजे पर लगे ताले को देखने से भी यही प्रतीत हो रहा था कि उस पर कोई चोट आदि के निशान नही थे। मौके पर पहुंचे सिपाहियों ने विजय जायसवाल से पूछताछ के बाद विजय जायसवाल के घर मे लगभग 9 - 10

 साल से काम कर रहे ग्राम गुलरामऊ निवासी सुनील को  सिपाहियों ने हिरासत में ले लिया और उसे थाने ले आये। विजय जायसवाल के मुताबिक सुनील नामक नौकर फोन करके एक दिन उनके घर आया था और व्यापारी विजय के मुताबिक जीने से ऊपर जाने वाले रास्ते के दरवाजे की चाभी नीचे के किराना दुकानदार के पास थी। यह जानकारी देने के पश्चात व्यापारी विजय भी थाने पहुंचे और चोरी से संबंधित एक प्रार्थना पत्र दिया।

 लाखों की चोरी हो जाने की सूचना पाकर महमूदाबाद कोतवाल भी व्यापारी के साथ घटनास्थल पर गए। इस बीच विजय के घर मे काम करने वाले नौकर से पूछताछ की जाती रही। इधर जब इस मामले में स्थानीय पुलिस द्वारा कोई स्पष्ट उत्तर नही मिला तो व्यापारी विजय के साथ महमूदाबाद के कुछ प्रतिष्ठित नेता व व्यापारी गण कोतवाली पहुंच गए और पुलिस को चोरी करने का 24 घण्टे में खुलासा करने का अल्टीमेटम दिया,

 उस वक़्त कोतवाल महोदय के बाहर होने के कारण स्थानीय कस्बा इंचार्ज ने व्यापारियों व नेताओं से बातचीत की और जल्द ही मामले का खुलासा हो जाने का आश्वासन दिया, जिस पर सभी नेता व व्यापारी लौट गए। इसी बीच वहां पर मौजूद व्यापारी के नौकर सुनील की विधवा माँ व बहन वहां पर पहुंची गयी। बताया जाता है कि हिरासत में लिए गए युवक के घर वालों को पुलिस द्वारा कोई सूचना ही नही दी गयी कि व्यापारी का नौकर सुनील पुलिस की हिरासत में है

 जो कि नियम विरुद्ध है और इस बात की जानकारी व्यापारी द्वारा भी सुनील के घरवालों को नही दी गयी। विश्वसनीय सूत्रों के मुताबिक जानकारी यह भी प्राप्त हुई है कि नौकर सुनील को थाने में काफी टॉर्चर किया गया है, बताया यह भी जाता है कि कोतवाल के कक्ष में ले जाकर उसके पैर बांधकर और पैरों में डंडा फंसाकर उसके साथ तीन पुलिसवालों ने काफी पिटाई की, सूत्रों की माने तो चार दिन तक उसे थाने में ही बिठाकर रखा गया जो कि

 नियमानुसार गलत है। इसको लेकर गत बुधवार की रात को ग्राम गुलरामऊ से व्यापारी के नौकर सुनील की विधवा माँ गीता देवी के साथ कई ग्रामीण भी थाने पहुंचे और इस बात का ज़िक्र भी किया गया कि चार दिन से आप लोग इस लड़के को बिठाए हो जो गलत है। बताया जाता है कि चार दिन से थाने में सुनील को रोक रखे जाने के कारण ग्रामीण काफी नाराज थे। ग्रामीणों ने पुलिस की इस प्रकार की कार्यशैली पर नाराजगी जताई। 


यही पर कुछ ग्रामीणों ने नाम न छापने की शर्त पर दबी जुबान में कहा कि रात में  लगभग 12 से 1 बजे के बीच पुलिस उस लड़के को विजय जायसवाल के घर लेकर गयी लेकिन कोई नतीजा नही निकला। कोतवाली महमूदाबाद में जब कई ग्रामीण पहुंचे और सुनील के संबंध में जानकारी ली गयी 

 तो सुनील को रात के 12 बजे के आसपास सुनील को बाकायदा पुलिस की गाड़ी से  उसके घर छोड़ने गए। इस मामले में जहां व्यापारी अपने लाखों के नुकसान को लेकर परेशान है वहीं पुलिस असली अपराधी तक पहुंच नही पाई है हलांकि पुलिस काफी कोशिश कर रही है कि मामले का खुलासा हो जाये।
 

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel