पुराना बकाया न जमा करने वालों को मौरम पट्टा संचालन की नही मिलेगी अनुमति

पुराना बकाया न जमा करने वालों को मौरम पट्टा संचालन की नही मिलेगी अनुमति

अवैध खनन रोकने हेतु बनेगी टीम  


स्वतंत्र प्रभात 
 

हमीरपुर-


    कर करेत्तर एवं राजस्व कार्यो की मासिक समीक्षा बैठक जिलाधिकारी डॉ ज्ञानेश्वर त्रिपाठी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार कक्ष में संपन्न हुई।जिलाधिकारी ने कहा कि कर करेत्तर  के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2021- 22 हेतु विभागों को जो लक्ष्य दिया गया है उसको  कार्ययोजना बनाकर दिसंबर तक प्रत्येक दशा में पूर्ण कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि आबकारी विभाग  कार्ययोजना बनाकर अपने लक्ष्य को प्राप्त करें।


 सरकारी ठेकों पर नियमित रूप से एसडीएम द्वारा टीम बनाकर जांच की जाए ।सरकारी ठेकोंं के अतिरिक्त कहीं दूसरे स्थान पर अवैध शराब बिकती पाई जाए तो कड़ी कार्रवाई की जाए,  अवैध शराब पर प्रवर्तनीय कार्यवाही नियमित रूप से की जाए। उन्होंने कहा कि  पुराने बकायेदारों का संपूर्ण बकाया जमा कराने के बाद ही पुनः मौरंग पट्टा संचालन की अनुमति मिलेगी ,कहीं भी मौरंग खनन हेतु पट्टा चालू हो रहा है तो खनन विभाग द्वारा उसकी संबंधित एसडीएम एवं अन्य संबंधित को सूचना अनिवार्य रूप से दी जाए । 

कहा कि पुराने बकायेदारों की आरसी जारी कर करें तथा ना जमा करने वालों को रिमाइंडर भेजें फिर भी बकाया न जमा करें तो आगे की कार्यवाही हेतु शासन को  पत्र भेजें। कहा कि अवैध खनन रोकने हेतु टीम बनाकर छापेमारी की जाए।  कहा कि परिवहन विभाग, वन विभाग, वाणिज्यकर ,स्टांप एवं पंजीयन, विद्युत विभाग, रोडवेज आदि सभी विभागों द्वारा अपने विभागीय लक्ष्य को प्राप्त करने में तेजी लायी जाय। 

कहा कि नगर निकायों में अवैध होर्डिंग्स, विज्ञापन, प्रचार सामग्री लगाने वालों से जुर्माना वसूला जाय तथा इसके लिए टेंडर कार्य पूर्ण कर निकायों की आमदनी बढ़ायी जाय। कहा कि सिंगल यूज प्लास्टिक पर अभियान चलाकर कार्यवाही करें। जिलाधिकारी ने कहा कि परिवहन विभाग द्वारा ओवरलोड ट्रकों पर  नियमित रूप से कार्रवाई की जाए। जनपद में संचालित ईट भट्ठा आदि  की नियमित रूप से जांच की जाए तथा  यह सुनिश्चित करें कि उनपर किसी भी प्रकार का बकाया ना रहे। 

उन्होंने कहा कि जनपद में अभिहित अधिकारी, वाणिज्य कर विभाग तथा परिवहन विभाग द्वारा संयुक्त रूप से  अभियान चलाकर अवैध गतिविधियों/ व्यापार पर प्रवर्तनीय कार्यवाही की जाए । आबकारी विभाग द्वारा मदिरा की ओवर रेटिंग पर कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि वन विभाग द्वारा जनपद में संचालित सभी आरा मशीनों की नियमित रूप से जांच की जाए तथा अवैध आरा मशीनों पर  कार्रवाई की जाए ।


 उन्होंने कहा कि प्रतिबंधित वृक्षों का कटान किसी भी दशा में नहीं होनी चाहिए यह सुनिश्चित किया जाए।जिलाधिकारी ने समस्त एसडीएम को निर्देशित किया कि विभागीय कार्यों के साथ-साथ निर्वाचन के कार्यों को भी गंभीरता पूर्वक एवं समयबद्धता  के साथ किया जाय। शत प्रतिशत पात्र दिव्यांगों एवं युवा वर्ग का मतदाता सूची में नाम सम्मिलित किया जाय। फार्म 6,7,8 समय से निस्तारित करें। वृध्दावस्था पेंशन के लाभार्थियों का शत प्रतिशत सत्यापन किया जाय।


 राजस्व कार्यों की समीक्षा में जिलाधिकारी ने कहा कि मा0 कोर्ट एवं विभिन्न आयोगो के पेंडिंग कार्य शीघ्र निस्तारित किए जाएं तथा उनका जवाब समय से चला जाए । कहा कि अपने विभागीय कार्यों में लापरवाही बरतने वाले राजस्व कर्मियों के संबंध में आरोप पत्र बनाकर कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि खतौनी ,खसरा ,वरासत ,अमल दरामद केेे पेंडिंग कार्यों को समयबद्ध ढंग से निस्तारित करें तथा सभी वरासत समय से दर्ज हो अन्यथा संबंधित लेखपाल ,कानूनगो की जिम्मेदारी तय की जाएगी। 


जिलाधिकारी ने कहा कि आय ,जाति ,निवास संबंधी प्रमाण पत्रों को समयबद्ध ढंग से बनाया जाए तथा आईजीआरएस ,मुख्यमंत्री हेल्पलाइन संदर्भ का नियमित रूप से मॉनिटरिंग की जाए, इनके अंतर्गत प्राप्त होने वाली शिकायतों को गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारण किया जाए, शिकायतों के निस्तारण के पश्चात लाभार्थियों से फीडबैक भी लिया जाए , किसी भी दशा में शिकायत डिफाल्टर संदर्भ की श्रेणी में ना आने पाए।


उन्होंने कहा कि शिकायतोंं  के निस्तारण में असंतोष   फीडबैक नहीं मिलना चाहिए।कहा कि बाढ़ एवं आपदा से प्रभावित लोगों के  संबंधित परिवार को नियमानुसार अनुमन्य सहायता समय से उपलब्ध कराई जायें। इस मौके पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व विनय प्रकाश श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे राजेश कुमार यादव, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट / एसडीएम सदर संजय कुमार मीणा,  समस्त एसडीएम व तहसीलदार, उपायुक्त वाणिज्यकर जय सेन, समस्त ईओ नगर पालिका/ नगर पंचायत तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।
 

Tags:

About The Author

Post Comment

Comment List

Online Channel