जिला कारागार में बंद एक कैदी ने शनिवार को दोपहर बाद आत्महत्या कर लिया

कैदी-द्वारा-आत्महत्या-किए-जाने-की-सूचना-मिलने-के-बाद-जिला-प्रशासन-के-साथ-ही-कारागार-प्रशासन-में-हड़कंप-मच-गया।-जानकारी-मिलने-के-बाद-पहुंची-पुलिस-ने-शव-को-कब्जे-में-लेकर-पोस्टमार्टम-के-लिए-भेज-दिया-है।-जेल-अधीक्षक-भूमिका-यादव-ने-बताया-कि-कैदी-द्वारा-आत्महत्या-किये-जाने-के-मामले-की-जांच-कराई-जा-रही-है-।

ब्यूरो रिपोर्ट – विवेक पाण्डेय

अम्बेडकरनगर। जिला कारागार में बंद एक कैदी ने शनिवार को दोपहर बाद आत्महत्या कर लिया। कैदी द्वारा आत्महत्या किए जाने की सूचना मिलने के बाद जिला प्रशासन के साथ ही कारागार प्रशासन में हड़कंप मच गया। जानकारी मिलने के बाद पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। जेल अधीक्षक भूमिका यादव ने बताया कि कैदी द्वारा आत्महत्या किये जाने के मामले की जांच कराई जा रही है ।

गौरतलब है कि जलालपुर थाना अंतर्गत डडवा मगुराडिला निवासी राजन चैहान 22 पुत्र रामप्रीत चैहान को 12 अगस्त को पास्को एक्ट के तहत जेल भेजा गया था। कोरोना संक्रमण के चलते सरकार द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार राजन को अन्य कैदियों से अलग क्वॉरेंटाइन कक्ष में रखा गया था। इसी दौरान उसने 15 अगस्त को दोपहर बाद आत्महत्या कर जान दे दी। अपर पुलिस अधीक्षक अवनीश कुमार मिश्र ने बताया कि ग्रामीणों के अनुसार उसने गांव में भी दो तीन बार आत्महत्या का प्रयास किया था। फिलहाल कैदी द्वारा आत्म हत्या किए जाने के मामले की जांच की जा रही है। सवाल यह है कि उसने आत्महत्या कैसे की और आत्महत्या से समबंधित सामान उसके पास कैसे रह गए।