होम क्वारेन्टाइन में उल्लंघन करने वालो की सूचना बीडीओ को दें-सीडीओ

कुशीनगर,उप्र।

कोविड-19 हेतु गठित ग्राम और मोहल्ला निगरानी समिति के कार्यो एवं दायित्वों के दिशा निर्देशों को लोगो तक पहॅुचाये समितियां-मुख्य विकास अधिकारी

मुख्य विकास अधिकारी आनंद कुमार ने आज कलेक्ट्रेट सभागार में जनपद में कार्यरत निगरानी समितियों के अभिमुखीकरण सम्बन्धी आवश्यक बैठक दौरान उक्त बातें कही। उन्होंने कहा कि जनपद में प्रवासी लोगो के दृष्टिगत प्रभावी सामुदायिक सर्विलान्स, सामुदायिक जागरूकता, सामुदायिक एवं व्यक्तिगत स्वच्छता सुनिश्चित कराने तथा सरकार द्वारा उपलब्ध करायी जा रही सुविधाओं को पात्र व्यक्तियों तक पहुॅचाने हेतु ग्राम निगरानी समिति का गठन किया जा चुका है।


जिसे प्रत्येक विकास खण्ड स्तर पर प्रशिक्षण कराये जाने के साथ ही निर्देशित किया गया है कि निगरानी सतितियों के कार्यो का निरन्तर अनुश्रवण किया जाए ताकि यह समितियां सक्रिय रहकर संक्रमण के नियंत्रण में अपना पूरा योगदान प्रदान करे।
उन्होने समितियों के कार्यो का उल्लेख करते हुए बताया कि समिति के समस्त सदस्यों के नाम एवं मोबाइल नं0 की सूची सभी ग्राम प्रधानों के पास उपलब्ध होनी चाहिए। ग्राम प्रधान द्वारा ग्राम निगरानी समिति के सभी सदस्यों को सामाजिक दूरी के नियमों का पालन कराये।


निगरानी समिति द्वारा कोविड-19 से बचाव हेतु सरकार द्वारा समय-समय पर निर्गत दिशा-निर्देशों व निर्णयों से सामान्य जनमानस को अवगत करायें। बिना स्क्रीनिंग कराये सीधे ही अन्य राज्यों और जनपदों से ग्राम में आने वाले प्रवासियों की सूचना खण्ड विकास अधिकारी के माध्यम से तहसील को दे। प्रभावित क्षेत्र में घर-घर जाकर सम्पर्को की खोज करने में तथा सर्विलान्स टीम की सहायता करे।

60 वर्षीय बुजुर्गों पर विशेष ध्यान दे

क्षेत्र में 60 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्गो, अन्य गंभीर रोगो से ग्रसित व्यक्तियों, गर्भवती महिलाओं एवं छोटे बच्चों पर विशेष ध्यान दे। प्रवासियों एवं उनके परिवार द्वारा निर्धारित अवधि तक होम-क्वारेन्टाइन हेतु यथा सम्भव पृथक कमरे का प्रयोग सुनिश्चित कराये। क्वारेन्टाइन किये गये प्रवासी के घर से केवल एक व्यक्ति को आवश्यक सामग्रियों को लेने हेतु घर से बाहर निकलने की अनुमति प्रदान करे।
बाहर निकलते समय इस व्यक्ति द्वारा समस्त आवश्यक सावधानियां अपनाई जाये। निगरानी समिति द्वारा परिवार से फोन पर नियमित सम्पर्क करके उनको क्वारेन्टाइन अवधि को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित करना तथा उनको पूर्ण सहयोग प्रदान करना है।जिससे परिवार स्वयं को अकेला एवं असहाय न समझे तथा पड़ोसियों से भी उस परिवार का सहयोग करने हेतु जागृत करे।

होम क्वारेन्टीन घरों पर लगेगा पोस्टर

प्रवासियों के घरों पर होम-क्वारेन्टाइन फ्लायर व पोस्टर का लगाया जाना सुनिश्चित करे। क्वारेन्टाइन किये गये परिवारों तक सरकार द्वारा सुविधाओं की पहॅुच सुनिश्चित करे। सार्वजनिक हैण्डपम्प में प्राथमिकता के आधार पर साबुन की व्यवस्था करे। क्वारेन्टाइन की अवधि में इन प्रवासियों और उनके परिवारों को संबल प्रदान करे तथा उनसे किसी भी प्रकार के भेद भाव को रोके।

जिसका कोई नही उसका ग्राम पंचायत करेगी व्यवस्था

होम क्वारेन्टाइन किये गये प्रवासी मजदूरों अथवा जरूरतमंद लोग(वृद्ध, अशक्त, गर्भवती महिला, गंभीर बीमारी से ग्रसित व्यक्ति जिसकी देखभाल के लिए कोई न हो) जिसकी देखभाल के लिए कोई न हो, ऐसे लोगो के लिए ग्राम पंचायत में अलग से क्वारेन्टाइन, राशन तथा साबुन आदि आवश्यक वस्तुओं की व्यवस्था कर उनकी देखभाल का उचित प्रबन्ध करे। क्वारेन्टाइन किये गये व्यक्तियों सहित क्षेत्र की आम जनता को आरोग्य सेतु मोबाइल ऐप डाउनलोड करने एवं इसका सक्रिय प्रयोग करने हेतु प्रेरित करे।होम क्वारेन्टाइन के नियमों का उल्लंघन करने की सूचना तत्काल खण्ड विकास अधिकारी को प्रदान करे।

प्रवाशी लागू प्रोटोकाल का पालन करें

आम जनमानस को गमच्छा,अंगोछा,दुपट्टा,घर पर निर्मित मास्क का प्रयोग करने हेतु प्रेरित करे। आम जनमानस में नियमित रूप से हाथों को धोने की आदत डालने हेतु प्रेरित करे। दो व्यक्तियो के बीच कम से कम दो गज की दूरी रखने का संदेश प्रसारित करे। सामाजिक व धार्मिक व शादी समारोहों और शोक सभाओं आदि में प्रोटोकाॅल के अनुसार न्यूनतम व्यक्तियों को प्रतिभाग करने हेतु सहमत करे। सार्वजनिक स्थानों, गलियों, सार्वजनिक पेयजल स्रोतो तथा क्वारेन्टाइन किये गये घरों के आस पास विसंक्रमण सुनिश्चित करे।

अब गांव में लगेगी डुगडुग्गी

कोविड-19 से सम्बन्धित जोखिम और उनके सुरक्षात्मक उपायों के विषय में समुदाय में एलान व डुगडुगी के माध्यम से जागरूकता सुनिश्चित करे। कोविड-19 से सम्बन्धित किसी भी घटना की सूचना तत्काल या टोल फ्री नम्बरपर उपलब्ध कराएं।

होम क्वारेन्टाइन अवधि 21 दिन के बाद मिलेगी मुक्ति

सीडीओ ने बताया कि बाहर से आये समस्त व्यक्तियों को 21 दिनों तक होम क्वारेन्टाइन में रखना सुनिश्चित करे तथा 21 दिन पूरा होने के बाद यदि कोई लक्षण उत्पन्न नही होता है तब उन्हें क्वारेन्टाइन मुक्त करे। होम क्वारेन्टाइन समाप्त होने पर फ्लायर को घर से हटाना एवं ग्राम में इस बात का प्रचार करे कि सम्बन्धित व्यक्ति व परिवार को होम क्वारेन्टाइन समाप्त हो गया है।

गांव में निगरानी समिति करेगी भ्रमण

निगरानी समिति के सदस्यों द्वारा ग्राम के भ्रमण के दौरान सावधानियां बरती जायेगी जिसमे भ्रमण के समय माॅस्क, गमछा अथवा दुपट्टा आदि का प्रयोग तथा परिवार के सदस्यों से कम से कम दो गज की दूरी बनाये रखे। भ्रमण से पूर्व एवं उपरान्त में हाथों को अच्छी तरह साबुन से धोये। भ्रमण के समय दरवाजे अथवा दरवाजों के हैण्डल अथवा बार बार स्पर्श की जाने वाली अन्य सतहों को स्पर्श न करे तथा परिवार के सदस्यों को फोन से अथवा आवाज देकर सुरक्षित खुले स्थान पर वार्ता करे। निगरानी समितियों द्वारा इन निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन कराना सुनिश्चित किया जाये।


इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 नरेंद्र गुप्ता, उप जिलाधिकारी कप्तानगंज अरविंद कुमार, पड़रौना रामकेश यादव, खडडा कोमल यादव, तमकुही आर फारूकी,जिला विकास अधिकारी शेषनाथ चौहान सहित समस्त ईओ नगर पालिका व नगर पंचायत आदि पदाधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here