सत्य सनातन संस्था के सदस्य सुजान ने रक्तदान कर थैलीसीमिया मरीज को किया सहयोग

सत्य सनातन संस्था के सदस्य सुजान ने रक्तदान कर थैलीसीमिया मरीज को किया सहयोग

पाकुड -झारखण्ड 

सत्य सनातन संस्था के सदस्य बैंक कॉलोनी निवासी सूजन गुरणांली ने हरिणडांगा बाजार निवासी जीवन भगत पिता विनोद भगत जो थैलेसीमिया बीमारी से ग्रसित थे ।

मरीज के परिजनों ने संस्था से रक्तदान कर बच्चे की जान बचाने की गुहार लगाई । संस्था ने तत्क्षण सभी सदस्यों से संपर्क किया जिसमें सदस्य सूजन गुरणाली ने रक्तदान   कर जीवन बचाया । सूजन का यह पहला रक्तदान है । सूजन ने रक्तदान के बाद कहा कि मुझे खुशी है कि मेरा रक्त किसी के काम आया ।

बातों ही बातों में उन्होंने कहा कि रक्तदान से पहले डर तो अवश्य लग रहा था परंतु रक्तदान के पश्चात सिर्फ गर्व महशुस कर रहा हूँ । सूजन ने आगे कहा कि समाज के सभी युवाओं को इस महान कार्य के लिए आगे आना चाहिए । रक्त का कोई विकल्प नही है ये हम सब के दान द्वारा ही किसी की जान बचाई जा सकती है ।

मात्र 18 वर्ष की उम्र में रक्तदान कर सूजन ने समाज के सामने एक उदाहरण प्रस्तुत किया है ।

विदित हो कि इस रोग के होने पर शरीर की हीमोग्लोबिन निर्माण प्रक्रिया में गड़बड़ी हो जाती है जिसके कारण रक्तक्षीणता के लक्षण प्रकट होते हैं। इसकी पहचान तीन माह की आयु के बाद ही होती है। इसमें रोगी बच्चे के शरीर में रक्त की भारी कमी होने लगती है जिसके कारण उसे बार-बार बाहरी खून चढ़ाने की आवश्यकता होती है।

इस राक्तदान मे सत्य सनातन संस्था के वरीय सदस्य सह कार्यसमिति सदस्य अमित मिश्रा जी का काफी सराहनीय सहयोग रहा । सत्य सनातन संस्था के सचिव सनातनी प्रतीक एवं अध्यक्ष रंजीत चौबे ने रक्तदाता सुजान के प्रति आभार प्रकट किया एवं उसके जज्बे को सैल्यूट किया ।