राजस्थान में थीं प्रियंका गांधी लेकिन कोटा के बच्चों की मांओं के आंसू पोंछने का समय नहीं -मायावती

कोटा के एक सरकारी अस्पताल में सौ से अधिक नवजात बच्चों की मौत हो गई थी.

नई दिल्ली: 

बसपा प्रमुख मायावाती ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा की कोटा अस्पताल कांड पर ध्यान नहीं देने के लिए उनका नाम लिये बिना आलोचना की. कोटा के एक सरकारी अस्पताल में सौ से अधिक नवजात बच्चों की मौत हो गई थी. बसपा सुप्रीमो ने हिंदी में ट्वीट किया, ‘‘कांग्रेस की नेता उप्र में तो आए दिन घड़ियालू आँसू बहाने आ जाती हैं. लेकिन राजस्थान में कल वह अपने निजी कार्यक्रम के दौरान अपना थोड़ा भी समय कोटा में उन बच्चों की मांओं के आँसू पोछने के लिए देना उचित नहीं समझती हैं जबकि वह भी एक मां हैं . यह अति-दुर्भाग्यपूर्ण है.” 


मायावती ने कहा कि बसपा किसी भी मामले में कांग्रेस, भाजपा व अन्य पार्टियों की तरह दोहरा मापदण्ड अपनाकर घटिया राजनीति नहीं करती है. मायावती ने कहा, ”ऐसे माहौल में अन्य पार्टियों की तरह कांग्रेस पार्टी भी अपने आपको बदलने को तैयार नहीं है, जिसका ताजा उदाहरण कांग्रेसी शासित राजस्थान के कोटा अस्पताल का है जहां सरकारी लापरवाही के कारण बड़ी संख्या में मासूम बच्चों की मौत हो गई.” प्रियंका गांधी शुक्रवार को एक शादी समारोह में हिस्सा लेने के लिए जयपुर गई थीं