सामान की खरीदारी करने के बाद जमुई ब्लड बैंक के लाइसेंस का किया जाएगा नवीनीकरण

जमुई: सदर अस्पताल परिसर में अवस्थित ब्लड बैंक और आईसीटीसी सेंटर का राज्य स्वास्थ्य समिति के ब्लड सेफ्टी अधिकारी जीतेंद्र कुमार लाल ने निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने ब्लड बैंक के लाइसेंस नवीनीकरण को लेकर जांच की। साथ ही लाइसेंस नवीनीकरण के लिए पूर्व में दिए  गए निर्देश के बाद कुछ प्रक्रिया बाकी रहने की वजह से उन्होंने कहा कि कुछ सामान ब्लड बैंक के लिए जरूरी है जो सिविल सर्जन द्वारा अपने स्तर पर क्रय कर उस प्रक्रिया को पूरा कर लिया जा सकता है। उन्होंने जल्द से जल्द सामान की खरीदारी करने की बात कही। साथ ही कहा कि सामान क्रय के उपरांत ब्लड बैंक का साइसेंस रेनुवल कर दिया जाएगा।

वहीं प्रभारी सिविल सर्जन डा. सैयद नौशाद अहमद ने बताया कि ब्लड बैंक के लिए सामानों का एलॉटमेंट हो गया है। सिविल सर्जन फिलवक्त मिटिंग में शामिल होने के लिए पटना गए हुए है। उनके आने के बाद जल्द ही सामानों का क्रय कर लिया जाएगा। वहीं समिति के अधिकारी श्री लाल ने सदर अस्पताल में मौजूद आईसीटीसी सेंटर का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने बिहार सरकार के द्वारा एड्स से संबंधित योजना की जानकारी ली। मौके पर मौजूद कर्मियों ने जिले में चल रहे योजना के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी।

कर्मियों ने कहा कि सदर अस्पताल सहित सभी स्वास्थ्य संस्थान में एड्स से संबंधित मरीजों की जांच की जा रही है। साथ ही जेल में भी समय- समय पर कैंप लगाकर मरीजों का जांच किया जाता है। वहीं सदर अस्पताल में खुलने वाले एआरटी सेंटर के बारे में जानकारी प्राप्त करते हुए कहा कि चिन्हित स्थानों को जल्द से जल्द खाली कराया जाए ताकि उक्त स्थान पर जल्द से जल्द एआरटी सेंटर खोलने की प्रक्रिया शुरू की जा सके। इस अवसर पर एड्स विभाग के कर्मी अखौरी कुमार, मृणाल कुमार, आभा कुमारी आदि मौजूद थी।