महोबा का पान यहाँ की धरोहर है-डीएम महोबा

महोबा: – जिलाधिकारी अवधेश कुमार तिवारी की अध्यक्षता एवं भाजपा जिलाध्यक्ष जितेन्द्र सिंह सेंगर की उपस्थिति में राष्ट्रीय कृृषि विकास योजनान्तर्गत प्रदेश स्तरीय दो दिवसीय किसान मेला/सेमीनार/प्रदर्शनी/भ्रमण कार्यक्रम का आयोजन जिला सेवायोजन सभागार में किया गया।कार्यक्रम में महोबा, उन्नाव, आजमगढ़, बांदा आदि जनपदों के पान किसानों ने प्रतिभाग किया, जिसमें वरिष्ठ कृृषि वैज्ञानिकों द्वारा पान की उन्नतिशील प्रजातियों एवं पान को प्रभावित करने वाले रोगों तथा उनके बचाव के बारे में विस्तृृत जानकारी दी गयी।इस दौरान जनपद के पान किसानों द्वारा जिलाधिकारी से सिंचाई के लिए मिट्टी का तेल दिलाने तथा सर्दी के कारण पान में हुए नुकसान की भरपाई हेतु राहत दिलाने का अनुरोध किया गया।इस पर जिलाधिकारी ने उक्त समस्याओं का समाधान करने के लिए आश्वस्त करते हुए कहा कि इन समस्याओं को हल करने का हर सम्भव प्रयास किया जायेगा।उन्होनें कहा कि पान महोबा की धरोहर है, इसे संरक्षित करने के पूर्ण प्रयास किये जायेंगे।इस दौरान भाजपा जिलाध्यक्ष ने उपस्थित किसानों को विभिन्न विभागों द्वारा संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि इन योजनाओं का लाभ लें, यदि कोई समस्या आये तो हमे अवगत करायें। कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी हीरा सिंह ने गौवंश पालन योजना के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि सरकार अन्ना जानवरों के पालन पर प्रति पशु 900 रूपये प्रति माह के हिसाब से दे रही है, इसलिए सभी किसान बन्धुओं से अपील है कि गौवंश की अन्ना पृृवत्ति को रोकें तथा पशुपालन को बढ़ावा दें। 

         कार्यक्रम में पूर्व पान शोध अधिकारी आई0ए0सिद््ीकी, प्रभारी पान शोध अधिकारी भानुप्रकाश राम, कृृषि विज्ञान केन्द्र बेलाताल के वरिष्ठ वैज्ञानिक डाॅ0 मुकेश चन्द्र, प्रभारी मृृदा परीक्षण प्रयोगशाला महोबा जितेन्द्र शुक्ला, जिला उद्यान अधिकारी विजय चैरसिया एवं डाॅ0 रामसेवक चैरसिया सहित  500 से अधिक किसान मौजूद रहे।